AAP नेता ने कहा, राममंदिर में नहीं हुआ कोई घोटाला, रामविरोधी संजय सिंह खुद पार्टी का पैसा चुराता है

आयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए खरीदी जा रही जमीन को लेकर ‘श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट’ पर भ्रस्टाचार का आरोप लगाने वाले आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह अब अपनी पार्टी में ही घिर गए हैं, खुद को AAP यूथ ब्रिगेड का प्रदेश प्रवक्ता बताने वाले रत्नेश मिश्रा ने सिर्फ संजय सिंह को रामविरोधी करार दिया है, बल्कि उन्होंने कहा कि संजय सिंह खुद पार्टी का पैसा चुराकर खाते हैं, उन्होंने दावा किया कि राममंदिर में कोई भ्रस्टाचार नहीं हुआ है. ratnesh mishra sanjay singh

अयोध्या में पत्रकारों से बात करते हुए आप नेता रत्नेश मिश्रा ने संजय सिंह को राम द्रोही बताया. उन्होंने कहा कि संजय सिंह झूठे व राम विरोधी नेता हैं. न्यूज़-18 के मुताबिक, रत्नेश मिश्रा ने कहा कि गोण्डा जनपद के निवासी होने के नाते मुझे दिल्ली से भेजकर अयोध्या में संतों को बीजेपी और ट्रस्ट के विरुद्ध तैयार करने को बोला गया. अयोध्या पहुंचकर मुझे लगा संजय सिंह पाप कर रहे हैं. ट्रस्ट द्वारा जमीन खरीदने संबंधी हर एक पहलुओं पर ध्यान देकर हर एक से चर्चा की. ट्रस्ट के कामों में राजनीति चमकाने को लेकर संजय सिंह का ओछा बयान आस्था पर प्रहार है. ratnesh mishra sanjay singh


रत्नेश मिश्रा ने बड़ा आरोप लगाया कि संजय सिंह पार्टी का फंड खाते हैं और पार्टी का पैसा चुरा कर ही उन्होंने सुल्तानपुर में एक आलीशान मकान बनवाया है। उन्होंने कहा, “पार्टी फंड के रुपए चुराने वाले ने राम मंदिर पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं, जिससे मैं आहत हूँ। मैं दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल का सच्चा सिपाही हूँ और हमेशा रहूँगा। मैं उनसे माँग करूँगा कि संजय सिंह को पार्टी से निकाल बाहर किया जाए। ratnesh mishra sanjay singh

अयोध्या पहुंचे आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता यूथ रत्नेश मिश्रा ने कहा कि पार्टी फोरम के द्वारा ही मुझे तथ्यों की जांच के लिए अध्याय भेजा गया था. और तथ्यों की जांच में मैंने पाया राम मंदिर प्रश्न इमानदारी पूर्वक किया है. आप प्रवक्ता द्वारा लगाए गए आरोपों पर अभी तक संजय सिंह ने कोई बयान नहीं दिया है.