शर्मनाक: बंगाल में 6 साल के पोते के सामने TMC के लोगों ने 60 साल की महिला का किया गैंगरेप!

एक नाबालिग लड़की और 60 वर्षीय महिला ने विधानसभा चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ टीएमसी के सदस्यों द्वारा सामूहिक बलात्कार का आरोप लगाते हुए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है तथा अदालत की निगरानी में एसआईटी गठित कर हिंसा की सभी घटनाओं और पुलिस की कथित निष्क्रियता की जांच की मांग की है. 60 year lady bengal

60 साल की एक पीड़ित महिला ने कहा है कि उसके 6 साल के पोते के सामने बलात्कार किया गया. दूसरी पीड़ित नाबालिग ने याचिका में कहा है कि गुंडों ने उसका अपहरण किया और बलात्कार किया. पीड़िता के मुताबिक, गुंडों ने कहा कि बीजेपी का प्रचार करने का सबक सिखाएंगे. इन पीड़ितों ने टीएमसी सदस्यों पर आरोप लगाया है. 60 year lady bengal

60 वर्षीय महिला ने बताया कि उसके घर में 4 मई की रात को टीएमसी के कार्यकर्ता जबरन घुस आए थे और उसके पोते के सामने ही उससे रेप किया. यही नहीं महिला ने टीएमसी कार्यकर्ताओं पर घर में लूट का भी आरोप लगाया है. यह मामला बंगाल के पूर्व मेदिनीपुर जिले का है. रिपोर्ट के मुताबिक महिला ने कहा कि टीएमसी की ओर से बदले के तौर पर रेप जैसी घटनाओं को अंजाम दिया गया है। यही नहीं सुप्रीम कोर्ट में अपनी अर्जी में महिला ने कहा कि बंगाल में इन घटनाओं को पुलिस की ओर से निष्क्रियता के चलते भी बढ़ावा मिल रहा है..60 year lady bengal

उल्लेखनीय है कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव का परिणाम आने के बाद राज्य में बड़े पैमानें पर हिंसा हुई, भाजपा ने आरोप लगाया कि उसके दर्जनों कार्यकर्ताओं की ह्त्या हुई, दफ्तर और घर जलाये गए, जान बचाने के लिए सैकड़ों लोग पलायन पर मजबूर हो गए, इससे पहले देश की लगभ्ग 2 हजार अधिक महिला अधिवक्ताओं ने सुप्रीम कोर्ट के प्रधान न्यायाधीश को पत्र लिखकर बंगाल हिंसा की जांच करने के लिए अदालत की निगरानी में एसआईटी गठित करने की मांग की थी.