बाराबंकी: टीके से इतना डर गए कि गाँव वालों ने नदी में लगा दी छलांग

देशभर में कोरोना वायरस का कहर जारी है, कोरोना से बचने के लिए टीकाकरण अभियान भी जारी है, लेकिन कुछ लोगों के मन में अभी भी टीके के प्रति नकारात्मकता है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि यूपी के बाराबंकी में वैक्सीनेशन टीम पहुँची, टीम को देखते ही ग्रामीण टीके से इस कदर डर गए कि नदी में छलांग लगा दी, ताकि उन्हें टीका न लगवाना पड़े. ग्रामीणों के डरने का कारण यह भी हो सकता है कि ‘वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बाद भी कुछ लोगों की मृत्यु हो गई’.

फर्स्टपोस्ट के मुताबिक़, बाराबंकी के सिसौरा/सुरसंडा गांव में स्वास्थ्य अधिकारीयों की टीम लोगों को टीका लगाने गयी थी, स्वास्थ्य टीम को देखते ही कुछ ग्रामीणों ने टीका लगवाने के बजाय सरयू नदी में छलांग लगा दी ताकि टीका न लगवाना पड़े. रामनगर तहसील के Sub-Divisional Magistrate राजीव कुमार शुक्ला ने बताया कि ये घटना शनिवार की है. शुक्ला ने कहा कि उन्होंने ग्रामीणों को टीकाकरण के महत्व और लाभों के बारे में बताया, और मिथकों को दूर करने की कोशिश की. तब जाकर 18 लोग टीका लगवाने पहुंचे।

नदी में कूदने वाले ग्रामीणों ने कहा कि वे नदी में इसलिए कूद गए क्योंकि कुछ लोगों ने उन्हें बताया था कि यह कोई टीका नहीं है, बल्कि एक जहरीला इंजेक्शन है। आपको बता दें कि अबतक देशभर में लगभग 20 करोड़ टीकाकरण हो चुका है।