BJP प्रत्याशी की 2 इलेक्शन एजेंट के साथ रेप की खबर को वीरभूम के एसपी ने बताया फर्जी

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजे आ गए हैं, ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली टीएमसी ने एक बार फिर से बंगाल में भारी बहुमत के साथ सरकार बना ली है, सरकार बनते ही टीएमसी के गुंडों ने आतंक मचाना शुरू कर दिया है, कहीं भाजपा दफ्तरों को आग के हवाले किया तो कहीं भाजपा कार्यकर्ताओं के घरों में आग लगाया, तोड़फोड़ की तो कहीं भाजपा कार्यकर्ताओं की ह्त्या कर दी.

सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रशांत पटेल ने ट्वीट कर दावा किया था कि टीएमसी के गुंडों ने बीजेपी प्रत्याशी की इलेक्शन एजेंट के साथ रेप किया, जान बचाने के लिए हिन्दू घर छोड़कर अज्ञात जगहों पर जा रहे हैं, प्रशांत पटेल ने अपने ट्वीट में लिखा, ननूर, बीरभूम के भाजपा प्रत्याशी की 2 इलेक्शन एजेंट के साथ TMC के मुस्लिम गुंडों नें गैंग रेप किया है, उनमें से 1 गायब है। वहां हजारों हिन्दू जान बचाने के लिए घर छोड़कर अज्ञात स्थान पर भागे हैं। पूरे बंगाल में हिंसा का तांडव हो रहा है, कहाँ हैं भद्र बंगाली? हालाँकि वीरभूम के एसपी ने इसे फर्जी बताया है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, बंगाल के वीरभूम के एसपी एनएन त्रिपाठी ने बताया कि ‘2 महिलाओं के बलात्कार और नानूर में कुछ अन्य महिलाओं से छेड़छाड़ की खबरें सोशल मीडिया पर प्रसारित हो रही हैं। हमने जानकारी को सत्यापित किया और स्थानीय भाजपा नेताओं से भी बात की, वो भी ऐसी किसी भी घटना से अनजान हैं। मैं सभी को सूचित करता हूं कि यह फर्जी खबर है।