गुजरात तट से टकराने के बाद कमजोर पड़ा अति भीषण तूफान ‘ताउते’

अति भीषण चक्रवाती तूफान ताउते गुजरात तट से टकराने के बाद कमजोर पड़ गया है और गुजरात तट को पार कर आगे बढ़ गया है। भारतीय मौसम विभाग ने बताया कि कल रात 185 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाओं के साथ चक्रवात ताउते गुजरात तट से टकराया। गुजरात के अलावा, महाराष्‍ट्र, केरल और गोवा के तटवर्ती क्षेत्रों में भी एलर्ट जारी किया गया। दादर और नगर हवेली तथा दमन और दीव को भी हाई एलर्ट पर रखा गया। सेना और राष्‍ट्रीय आपदा मोचन बल ने लोगों को सुरक्षित स्‍थानों पर पहुंचाया।

कल प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने गोवा, गुजरात और महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्रियों से बातचीत की और बचाव कार्यों और अन्‍य राहत उपायों के लिए केन्‍द्र की मदद का भरोसा दिलाया। गुजरात के मुख्‍यमंत्री विजय रुपाणी ने बलसाड और गिर सोमनाथ के तटवर्ती जिलों के अधिकारियों के साथ गांधीनगर में स्‍थापित राज्‍य नियंत्रण कक्ष में बैठक की और स्थिति का जायजा लिया।

गुजरात तट के निकट के क्षेत्रों में पेड और बिजली के खम्‍भे उखड जाने से बिजली आपूर्ति बाधित हुई। गिर सोमनाथ, अमरेली, जूनागढ और भावनगर के तटवर्ती जिलों में ऐहतियाती उपाय के तौर पर बिजली आपूर्ति काट दी गई थी।

पश्चिम महाराष्‍ट्र में 23 लाख से अधिक उपभोक्‍ताओं तक बिजली की आपूर्ति चक्रवात के कारण बाधित हुई। पालघर, ठाणे, कोल्हापुर, पुणे, सिंधुदुर्ग, रत्‍नागिरी और रायगढ जिलों में 56 प्रतिशत से अधिक उपभोक्ताओं तक बिजली आपूर्ति बहाल कर दी गई है। कल, मुम्‍बई और इसके आसपास के क्षेत्रों में चक्रवात के असर से तेज वर्षा और 114 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चलने के कारण पेड उखड़ गए और स्‍थानीय रेल सेवाएं बाधित हुईं।