UPA के मंत्री पीके सेकर बाबू ने उत्तर भारतीयों के खिलाफ उगला जहर, दिया बेहद बेहूदा बयान

तमिलनाडु में UPA के मंत्री पीके सेकर बाबू ने उत्तर भारतीयों के खिलाफ जहर उगला है, डीएमके के नेता सेकर बाबू ने कहा, डीएमके की वजह से उत्तर भारतीय अमीर हो रहे हैं, लेकिन भाजपा को वोट देकर हमें धोखा देते हैं. अभी तमिलनाडु में डीएमके-कांग्रेस को सत्ता में आये एक महीनें भी नहीं हुए कि उससे पहले मंत्रियों ने बेहूदा बयान देना शुरू कर दिया।

तमिलनाडु के मंत्री पीके शेखर बाबू ने कहा कि राज्य में अमीर हो रहे उत्तर भारतीय द्रविड़ पार्टी को वोट नहीं दे रहे हैं। “मैं उत्तर भारतीयों को यहाँ अमीर होते हुए देख सकता हूँ। यह भाजपा के कारण नहीं बल्कि द्रविड़ पार्टी के कारण है। आप हमें वोट नहीं दे रहे हैं बल्कि बीजेपी को वोट दे रहे हैं। आप कहते हैं कि आपने हमें वोट दिया लेकिन आपने हमें धोखा दिया। पहले बैलेट पेपर सिस्टम था लेकिन अब अगर आप एक बटन दबाते हैं, तो ईवीएम दिखाएगा कि आपने किसे वोट दिया है. पीके सेकर बाबू के इस विवादित बयान के बाद तमिलनाडु में एक बार फिर से उत्तर बनाम दक्षिण भारतीय का मामला गर्म हो गया है।

पीके शेखर बाबू पहले अन्नाद्रमुक के साथ थे और 2011 में द्रमुक में शामिल हो गए थे। इस बार, द्रमुक ने कांग्रेस के साथ गठबंधन में चुनाव लड़ा, जबकि अन्नाद्रमुक ने भाजपा के साथ तमिलनाडु विधानसभा चुनाव लड़ा। भाजपा ने हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनावों में 20 वर्षों के बाद चार सीटें जीती हैं। इससे पहले 2001 में चार सीटें जीती थीं, 2006, 2011 और 2016 के विधानसभा चुनावों में भाजपा का खाता भी नहीं खुला था.