शहाबुद्दीन की मौत पर नीतीश कुमार ने व्यक्त किया शोक तो भड़की पुष्पम प्रिया की पार्टी, कहा- शर्म करो

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल ( आरजेडी ) के पूर्व सांसद और दुर्दांत अपराधी शहाबुद्दीन की मौत हो गई, मिली जानकारी के मुताबिक, शहाबुद्दीन कोरोना से संक्रमित था. दिल्ली की तिहाड़ जेल में उम्रकैद की साज काट रहे शहाबुद्दीन को कोरोना संक्रमित होनें के बाद दिल्ली के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गई।

शहाबुद्दीन की मौत पर आरजेडी मुखिया लालू प्रसाद यादव, तेजस्वी यादव और सीएम नीतीश कुमार समेत कई नेताओं ने शोक व्यक्त किया है, वहीँ बिहार की नेता पुष्पम प्रिया चौधरी ने कहा कि शहाबुद्दीन की मौत पर मैं अफ़सोस करूंगी तो करोड़ों बिहारियों का अपमान होगा, मुझे उसकी मौत पर कोई अफ़सोस नहीं। शहाबुद्दीन की मौत पर शोक व्यक्त करने वाले सीएम नीतीश कुमार पर हमला बोलते हुए पुष्पम प्रिया की पार्टी ने कहा, शर्म करो, अगर सुप्रीमकोर्ट- हाईकोर्ट न हो तो नक़ली नेता क्रिमिनल राज ही बनाए रखेंगे।

दरअसल सीएम नीतीश कुमार ने शहाबुद्दीन की मौत पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त करते हुए कहा, वह लम्बे समय तक सीवान के विधायक और सांसद रहे, ईश्वर से प्रार्थना है कि उनके परिजनों को दुःख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करें। नीतीश पर हमला बोलते हुए पुष्पम प्रिया की पार्टी प्लूरलस ने ट्वीट कर कहा, ये हैं बिहार सीएम: कायर, अनैतिक, पाखंडी। यह संदेश बताता है कि अगर सुप्रीमकोर्ट- हाईकोर्ट न हो तो नक़ली नेता क्रिमिनल राज ही बनाए रखेंगे। #Shahabuddin सीएम NitishKumar आपके घटिया शासन में निर्दोष लोग भी कोरोना से मर रहे। ईश्वरीय न्याय से डर हो तो उनका शोक-संदेश कब? शर्म करें।

प्लूरल्स पार्टी की मुखिया पुष्पम प्रिया चौधरी ने अपने ट्वीट में लिखा, हमारी संपूर्ण पीढ़ी ने बाहर बिहारियों के “गुंडा और क्रिमिनल” होने का आक्षेप झेला है। आज अगर मैं इसके एक प्रतीक के जेल में मौत पर अफ़सोस ज़ाहिर करूँगी तो यह करोड़ों बिहारियों का अपमान होगा। मुझे कोई अफ़सोस नहीं है। फ़ुल स्टॉप। #Shahabuddin