अमरिंदर सिंह ने धरना करने वाले किसानों को बताया कोरोना स्प्रेडर, की ये अपील

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अप्रत्यक्ष रूप से आंदोलन कर रहे किसानों को ‘कोरोना स्प्रेडर’ बताया है, अमरिंदर सिंह ने अपील की है कि किसान धरना स्थागित कर दें. किसानों के जमा होने से कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा है। बता दें कि इससे पहले अमरिंदर सिंह ने न सिर्फ खुलकर किसान आंदोलन का समर्थन किया था बल्कि किसान आंदोलन में मरने वाले के परिवार को पांच लाख का मुवावजा देने का भी ऐलान किया था, लेकिन अब कोरोना का विकराल रूप देखते हुए धरना स्थगित करने की अपील की है.

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने भारतीय किसान यूनियन (एकता उगराहां) को पटियाला में अपने तीन दिवसीय प्रस्तावित धरने को स्थगित करने की अपील की है। उन्होंने कहा कि यह धरना बड़े स्तर पर कोरोना फैलने का कारण बन सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी सरकार ने पंजाब के हालत दिल्ली, महाराष्ट्र जैसे न बने इसके लिए सख्त लड़ाई लड़ी है। उन्होंने कहा कि ऐसे धरने में मुख्य तौर पर गांवों के लोग शामिल होंगे, जबकि इन दिनों गांव महामारी की दूसरी लहर से जूझ रहे हैं। इसलिए धरना स्थगित कर दिया जाय.

आपको बता दें कि आने वाली 26 मई को किसान आंदोलन के 6 महीनें पूर्ण हो जाएंगे, सिंघु बॉर्डर पर अबतक कई किसानों की कोरोना से मौत हो चुकी है, कई संक्रमित हैं, ईलाज जारी है.