बंगाल में राष्ट्रपति शासन लगना ही चाहिए, हमारा बहुमत लोकसभा व राज्य सभा में है: BJP सांसद निशिकांत दुबे

पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के नतीजे आ गए हैं, ममता बनर्जी के नेतृत्व वाली टीएमसी ने एक बार फिर से बंगाल में भारी बहुमत के साथ सरकार बना ली है, सरकार बनते ही गुंडों ने आतंक मचाना शुरू कर दिया है, कहीं भाजपा दफ्तरों को आग के हवाले किया तो कहीं भाजपा कार्यकर्ताओं के घरों में आग लगाया, तोड़फोड़ की तो कहीं भाजपा कार्यकर्ताओं की ह्त्या कर दी. बंगाल में इस समय आराजकता अपने चरम पर है.

बंगाल में हो रही हिंसा के खिलाफ देश हर में जमकर आक्रोश है, सोशल मीडिया पर बंगाल में राष्ट्रपति शासन लगानें की मांग की जा रही है, अब बीजेपी सांसद डॉ निशिकांत दुबे ने भी ट्वीट कर इस मांग को बल दिया है, उन्होंने कहा, किसी भी कीमत में बंगाल में राष्ट्रपति शासन लगना ही चाहिए।

झारखंड के Godda से भाजपा सांसद डॉ निशिकांत दुबे ने ट्वीट कर कहा, बंगाल में किसी क़ीमत पर राष्ट्रपति शासन लागू करना ही चाहिए। कॉंग्रेस ने केवल बाबरी मस्जिद गिरने पर हमारी, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, हिमाचल प्रदेश की सरकारों को हटाकर राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया था, यहाँ तो व्यक्ति की हत्या हो रही है, हमारा बहुमत लोकसभा व राज्य सभा में है.

इंडिक कलेक्टिव नाम की संस्था ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करके कहा, “चुनाव परिणाम के बाद शुरू हुई हिंसा पर नियंत्रण में राज्य सरकार पूरी तरह नाकाम साबित हुई है। उसने पुलिस को कड़ी कार्रवाई के निर्देश तक नहीं दिए हैं।” भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता और सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील गौरव भाटिया ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है, फेसबुक में वीडियो अपलोड करने के तुरंत बाद मारे गए अभिजीत सरकार समेत दूसरे लोगों का उदाहरण दिया। हिंसा की CBI जांच की मांग की है इसके अलावा राज्य सरकार से की गई कार्रवाई पर रिपोर्ट लेने की भी मांग की है.