केरल: चुनाव हारने के बावजूद मेट्रो मैंन श्रीधरन ने पूरा किया वादा, लोग बोले- नेता हो तो ऐसा?

हाल ही में केरल समेत देश के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव संपन्न हुए, केरल विधानसभा चुनाव से ठीक पहले मेट्रो मैंन ई श्रीधरन भाजपा में शामिल हो गए, भाजपा ने उन्हें केरल की पलक्कड़ विधानसभा सीट से न सिर्फ चुनावी मैदान में उतारा बल्कि मुख्यमंत्री कैंडिडेट भी घोषित कर दिया, हालाँकि चुनाव में ई श्रीधरन को हार का सामना करना पड़ा. चुनाव प्रचार के दौरान ई श्रीधरन ने पलक्कड़ की जनता से जो वादा किया था, चुनाव हारने के बाद भी उसे पूरा किया है.

मेट्रो मैंन ई श्रीधरन ने चुनाव प्रचार के दौरान जनता से वादा किया था कि वह सभी परिवारों को बिजली कनेक्शन दिलाएंगे। 88 वर्षीय श्रीधरन ने पलक्कड़ नगर पालिका के मदुरवीरन कॉलोनी के निवासियों को आश्वासन दिया था कि “वह जीतें या नहीं, क्षेत्र के सभी परिवारों को बिजली कनेक्शन मिलेगा”। अब श्रीधरन अपनी जेब से बिजली कनेक्शन करवा रहे हैं।

श्रीधरन ने कहा, कुछ लोगों ने बिजली की समस्या को लेकर उनसे सम्पर्क किया था, नगर पालिका के वार्ड 3 में कुछ अनुसूचित जाति (एससी) परिवारों में बिजली की आपूर्ति नहीं थी, क्योंकि उनका बिल बकाया था, श्रीधरन ने मंगलवार को इन परिवारों का जो बिल बकाया था उसका भुगतान कर दिया, इसके अलावा जिसके-जिसके पास बिजली कनेक्शन नहीं थे, उनके लिए बिजली कनेक्शन की व्यवस्था की।

इस साल मार्च में हुए केरल विधानसभा चुनाव से पहले श्रीधरन ने कहा था कि इस उम्र में भी उनके पास केरल के विकास के लिए काम करने के लिए पर्याप्त ऊर्जा है। उन्होंने कहा, “कई लोग मुझसे पूछते हैं कि मैंने इस उम्र में राजनीति में प्रवेश क्यों किया। मेरा जवाब है- मैंने देश के लिए कई प्रोजेक्ट्स पर काम किया है. इस उम्र में भी मेरे पास काम करने के लिए पर्याप्त ऊर्जा है और मैं इसे केरल के विकास के लिए इस्तेमाल करना चाहता हूं। इसलिए मैं बीजेपी में शामिल हुआ हूं.