इजराइल के रक्षामंत्री का बड़ा बयान, कहा- फिलिस्तीन पर तबतक हमला करेंगे, जबतक हमास.?

गज़ा पट्टी में इजरायली सेना और फलिस्तीनी लड़ाकों के बीच गोलाबारी तेज हो गई है। सोमवार से अब तक कम से कम 43 फलिस्तीनी और छह इजरायल के नागरिक मारे गए हैं। इजराइली शहर अश्‍क्लॉन में कल हुए रॉकेट हमले में एक भारतीय महिला भी मारी गई। इसकी पहचान केरल के इद्दुक्की जिले में कांजीकुझी पंचायत की रहने वाली सौम्‍या के रूप में हुई है।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, इजराइल ने आज गज़ा पट्टी में सैकड़ों हवाई हमले किए और फलिस्तीनी लड़ाकों ने तल अवीव और दक्षिणी शहर बिर्शेबा को निशाना बनाकर कई रॉकेट दागे। इजराइल के रक्षामंत्री बेनी गैंट्ज़ ने कहा कि गाजा में फलिस्तीनी लड़ाकों के समूहों पर हमले तब तक जारी रहेंगे, जब तक वे पूरी तरह शांत नहीं हो जाते। उन्‍होंने कहा कि इस तरह की सैन्य कार्रवाई से कोई भी युद्धविराम समझौता असंभव होगा।

इजराइल में रह रहे अरब मूल के लोगों ने भी कई इजरायली शहरों में हिंसक विरोध प्रदर्शन किए हैं। तल अवीव के पास लोद में आपात स्थिति लागू कर दी गई है। अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने मौजूदा संघर्ष के नियंत्रण से बाहर होने की चिंताओं के बीच दोनों पक्षों से संघर्ष समाप्त करने का आग्रह किया है। संयुक्त राष्ट्र के मध्य पूर्व शांति दूत टॉर वेन्सलैंड ने कहा है कि दोनों पक्ष पूर्ण युद्ध की ओर बढ़ते दिख रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुतेरस ने कहा कि वह क्षेत्र में जारी हिंसा से गंभीर रूप से चिंतित हैं।