कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों की मदद के लिए हरियाणा सरकार ने शुरू की ‘मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना’

haryana-cm-manohar-lal-khattar-appeal-to-respect-fauji

कोरोना वायरस के कारण अनाथ हुए बच्चों की मदद के लिए हरियाणा सरकार ने ‘मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना’ शुरू की है, मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने इसकी जानकारी दी, सीएम खट्टर ने कहा, कोविड संक्रमण की वजह से जो बच्चे अनाथ हो गए हैं, उन बच्चों के लिए मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना शुरू की गई है। जो बच्चे परिवारों में रहेंगे उन्हें 18 वर्ष तक 2,500 रुपए प्रति माह दिए जाएंगे और पढ़ाई समेत अन्य खर्चों के लिए 12,000 रुपए हर साल दिए जाएंगे।

सीएम खट्टर ने खा, जो बच्चे बाल देखभाल संस्थान में रहेंगे उन बच्चों को बाल देखभाल संस्थान पालेंगी। 18 वर्ष तक इनके नाम से 1,500 रुपए प्रतिवर्ष जमा कराए जाएंगे। जब ये बच्चे 21 साल के हो जाएंगे तो ये जमा राशि इन्हें दे दी जाएगी।

इसके अलावा कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों के लिए केंद्र सरकार भी आगे आ चुकी है. प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) की तरफ से बताया गया कि ऐसे बच्चों के लिए कई तरह की योजनाएं बनाई गई हैं, जिससे उनका भविष्य बेहतर हो सकेगा. केंद्र सरकार की ओर से किए गए ऐलान के तहत कोविड-19 के कारण अपने माता-पिता को खोने वाले बच्चों को 23 साल के होने पर पीएम केयर्स फंड से 10 लाख रुपये की राशि मिलेगी.