अमेरिका के पूर्व विदेश मंत्री ने फिर बोला चीन पर हमला, कहा- वुहान लैब से ही दुनिया में फैला वायरस

जब से कोरोना वायरस दुनिया में आया है तबसे ही अमेरिका ने इसे चीनी वायरस करार दिया है, अब एक बार फिर से अमेरिका की तरफ से ऐसा ही दावा किया गया है। अमेरिका के पूर्व विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने एक बार फिर से कोरोना को चीनी वायरस बताया है, उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस चीन की वुहान लैब से ही फैला। पॉम्पियो ने कोरोना वायरस को लेकर चीन का जैविक हथियार कहे जाने वाले दावों को सच बताया, ट्रंप काल में विदेश मंत्री रहे माइक पॉम्पियो ने कहा की चीनी सरकार ने चीन में कोरोना मामलों को दबाने की पूरी कोशिश की।

इस बात के कई सबूत भी सामने आ चुके हैं कि चीन ने मामलों को दबाने के लिए पूरा ज़ोर लगा दिया, मगर लगातार चीन में मामले बढ़ते ही रहे। पॉम्पियो का कहना है कि अमेरिका ने चीन के साथ हर संभव कोशिश की, लेकिन चीन ने वुहान की वायरोलॉजी लैब और उसके डॉक्टरों तक अमेरिका को जाने ही नहीं दिया।

लेकिन अमेरिका के पास इस बात के पक्के सबूत हैं कि वायरस चीन से ही फैला, क्योंकि चीन ने मामलों को दबाने की भरपूर कोशिश की। चीन का वुहान की लैब में अमेरिका को किसी भी हालत में ना जाने देना इस बात का सबसे बड़ा सबूत है कि चीन की वुहान लैब से ही वायरस फैला, पॉम्पियो ने चीन की तरफ से आगे भी इसी तरह की साज़िश रचे जाने की चेतावनी भी दी।