नहीं कम हो रही ऑक्सीजन माफिया नवनीत कालरा की मुश्किलें, ED ने दर्ज किया मनी लॉन्ड्रिंग का मामला

दिल्ली के खान मार्केट में स्थित ‘खान चाचा’ रेस्टोरेंट के मालिक और ऑक्सीजन माफिया नवनीत कालरा की मुश्किलें कम होनें का नाम नहीं ले रही हैं, अब प्रवर्तन निदेशालय ( ED ) ने कालरा के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया है, फ़िलहाल नवनीत कालरा तीन दिन की पुलिस रिमांड में है. नवनीत कालरा और उसके सहयोगियों के खिलाफ हाल ही में ऑक्सीजन कन्संट्रेटर की जमाखोरी और कालाबाजारी के मामले में बुधवार मो ED द्वारा मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया। सूत्रों ने आउटलुक को बताया, ‘कालरा और उनके सहयोगियों के खिलाफ धन शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) की विभिन्न धाराओं के तहत आपराधिक मामला दर्ज किया गया है.

केंद्रीय जांच एजेंसी ने दिल्ली पुलिस की एक प्राथमिकी का संज्ञान लिया, जो 5 मई को दर्ज की गई थी, जब पुलिसकर्मियों ने कालरा के स्वामित्व वाले और उससे जुड़े कुछ रेस्तरां और परिसरों पर छापा मारा था और वहां से 500 से अधिक ऑक्सीजन कन्संट्रेटर बरामद हुए थे. जांच के दौरान ED कालरा की संपत्तियों को भी कुर्क कर सकता है, अगर ऐसा हुआ तो ED पीएमएलए अदालत के समक्ष चार्जशीट दायर करेगी और
धन शोधन रोधी कानून के तहत मुकदमा चलाने की मांग करेगी।

आपको बता दें कि नवनीत कालरा को दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने रविवार रात गुड़गांव से गिरफ्तार किया था, बाद में उसे स्थानीय अदालत ने तीन दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया। खान चाचा रेस्त्रां, टाउन हॉल और नेगा एंड जू जैसे अपने रेस्तरां से 500 से अधिक ऑक्सीजन कन्संट्रेटर की बरामदगी के बाद से कालरा एक सप्ताह से अधिक समय से फरार चल रहा था। पुलिस के मुताबिक़, कालरा के रेस्तरां से जब्त किए गए ऑक्सीजन कन्संट्रेटर चीन से आयात किए गए थे, उन्हें 16,000 रुपये से 22,000 रुपये प्रति पीस की कीमत के मुकाबले 50,000 रुपये से 70,000 रुपये की अत्यधिक कीमत पर बेचा जा रहा था। दिल्ली पुलिस ने नवनीत कालरा के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 188, 120-बी और 34 के तहत मामला दर्ज किया है.