यूपी में काबू हुआ कोरोना, CM योगी आदित्यनाथ ने कथित विशेषज्ञों को साबित किया गलत

उत्तर प्रदेश में जिस हिसाब से कोरोना की रफ़्तार बढ़ रही थी, उसी हिसाब से भी घटनी शुरू हो गई है, सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, आज उत्तर प्रदेश में सिर्फ़ 1,900 कोरोना मामले आएं। कहा जा रहा था कि मई में उत्तर प्रदेश में 30 लाख से ज्यादा मामले होंगे। आज राज्य में कुल 41 हजार सक्रिय मामले हैं। हमारी सबसे ज्यादा रिकवरी दर है। सबसे कम पॉजिटिविटी दर और मृत्यु दर है. गौरतलब है कि कुछ तथाकथित विशेषज्ञ कह रहे थे कि यूपी में मई में 30 लाख से ज्यादा मामले होंगे। सरकार इसे रोक नहीं पाएगी, इन विशेषज्ञों के अरमानों पर पानी फेरते हुए सीएम योगी ने खुद ग्राउंड पर उतरकर सबकुछ हैंडल किया। नतीजा यह है कि मई भी बीतने वाली है लेकिन यूपी में कुल 41 हजार सक्रिय मामले हैं।

उत्तर प्रदेश अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि सक्रिय मामलों की संख्या घटकर 41,214 रह गई है जो हमारे 30 अप्रैल की पीक संख्या 3,10, 783 की तुलना में 86.75% कम है। आज 1,908 पॉजिटिव मामले आए हैं जो 24 अप्रैल को आए 38,055 मामलों की तुलना में लगभग 5% रह गए हैं. उन्होंने कहा, रिकवरी 96.4% हो गई है। कल 140 लोगों की मृत्यु दर्ज़ की गई। कल दैनिक पॉजिटिविटी की दर 0.6% थी। शुरु से अब तक प्रदेश की कुल पॉजिटिविटी 3.4% है.

अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि हर ज़िले में कुछ वैक्सीनेशन सेंटर अभिभावक स्पेशल के रूप में बनाए जा रहे हैं। इनपर केवल वे ही वैक्सीनेशन करा सकेंगे जिनके बच्चे 12 साल से छोटे हैं। इसमें स्लाट बुक तभी कराएं जब आपके बच्चे 12 साल से छोटे हों। वैक्सीनेशन सेंटर पर बच्चे का भी पहचान पत्र मांगा जाएगा।