कांग्रेसी टूलकिट पर बोले बाबा रामदेव, कुम्भ मेला और हिंदू धर्म को बदनाम करना पाप और अपराध है

baba-ramdev-big-statement-on-population-control-law

सोशल मीडिया पर एक टूलकिट तेजी से वायरल हो रहा है, भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने दावा किया है कि ये टूलकिट कांग्रेस पार्टी का है, उक्त दस्तावेज पर कॉन्ग्रेस का चुनाव चिह्न हाथ छाप भी अंकित है और बताया जा रहा है कि पार्टी ने अपने नेताओं को दी गई निर्देशावली को दस्तावेज का शक्ल दिया था, जो अचानक से लीक हो गया।

सोशल मीडिया पर वायरल हुए इस टूलकिट को लेकर सियासत तेज हो गई है, हालाँकि कांग्रेस ने इसे फर्जी करार दिया है, इस टूलकिट पर अब योगगुरु स्वामी रामदेव ने अपनी प्रतिक्रिया दी है, रामदेव ने कहा, कुम्भ मेला और हिंदू धर्म को बदनाम करना पाप और अपराध है, देश कभी माफ़ नहीं करेगा ऐसा कृत्य करने वालों को.

बाबा रामदेव ने कहा, टूलकिट के माध्यम से कुंभ मेला और सनातन हिंदू धर्म को बदनाम करना सामाजिक, सांस्कृतिक, राजनीतिक साजिश, पाप और अपराध है। जो लोग ऐसा कर रहे हैं उनसे हाथ जोड़कर प्रार्थना है आप राजनीति करिए लेकिन 100 करोड़ से ज्यादा हिंदुओं का अपमान मत करिए। रामदेव ने आगे कहा, आप बहुत घिनौनी हरकत कर रहे हैं। देश आपको कभी माफ नहीं करेगा। देश के लोगों को ऐसी सनातन विरोधी और भारत विरोधी ताकतों का मिलकर बहिष्कार और विरोध करना चाहिए।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस ‘टूलकिट’ में मोदी सरकार को कोरोना के प्रबंधन में असफल रहने का दावा करते हुए इसके पीछे कुम्भ मेला, चुनावी रैलियों और सेन्ट्रल विस्टा प्रोजेक्ट को जिम्मेदार ठहराया है। नेताओं को बताया गया है कि कैसे देश के विभिन्न कोने में मोदी सरकार को घेरना है। साथ ही हरिद्वार में लगे कुम्भ को कोरोना का ‘सुपर स्प्रेडर’ करार देते हुए लिखा गया है कि भाजपा अपने फायदे के लिए हिन्दू धर्म का राजनीतिकरण करती है।

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा का दावा है कि इस टूलकिट की लेखक सौम्या वर्मा हैं, सौम्या वर्मा की प्रोफ़ाइल के मुताबिक, वो कांग्रेस नेता राजीव गौड़ा के ऑफिस से जुडी है. राजीव गौड़ा AICC रिसर्च डिपार्टमेंट के चेयरमैन हैं.