बाबा रामदेव ने IMA को ललकारा, आर-पार की लड़ाई के लिए तैयार हूं, जिसे करनी है वो करके देख ले

एलोपैथी को लेकर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ( IMA ) के साथ छिड़े विवाद के बीच आज पतंजलि के निदेशक बाबा रामदेव ने समाचार चैनल न्यूज़-18 को इंटरव्यू दिया और IMA पर चुन-चुनकर हमला बोला, साथ ही IMA को ललकारते हुए कहा, आर-पार की लड़ाई के लिए तैयार हूं, जिसे करनी है वो करके देख ले.

बाबा रामदेव ने कहा. मैने किसी एक व्यक्ति के साथ धोखा नहीं किया- मै बड़ी से बड़ी बीमारियों को ठीक करता हूं, जो बात मैंने कही वही बात आमिर खान ने कही थी, कि एलोपैथ 15 रूपये की दवा का 1500 रूपये लेता है, हमनें योग और आयुर्वेद का लाभ देश के 100 करोड़ लोगों तक पहुंचाया है..90% लोग योग और प्राणायाम से ठीक हुए..मैं सिर्फ बयान नहीं दे रहा पतंजलि ने 100 करोड़ से ज्यादा लोगों का भला किया है..

बाबा रामदेव ने कहा, क्या कोरोना में बुखार की दवा पर कोई रिसर्च हुआ है, हमारी दवा कोरोनिल में पूरा रिसर्च हुआ है और पूरे रिसर्च पेपर सावर्जनिक किये हैं, मैंने 25 सवाल पूछें है एलोपैथ से, लेकिन IMA की तरफ से एक का भी उत्तर अभी तक नहीं आया. सर्जरी कोई साइंस नहीं स्किल है, मैं अपनी बात पर कायम।

एलोपैथी को लेकर दिए गए बयान को लेकर बाबा रामदेव ने कहा, मैंने बयान खुद नहीं दिया, whatsapp का मैसेज पढ़ रहा था, फिर भी मैंने बयान वापस ले लिया और उसपर खेद व्यक्त किया’, एलोपैथ में तमाम जांचों के नाम पर लाखों रुपये का बिल बना दिया जाता है, जिसे कोई भी बीमारी है वो मेरे पास आए, मैं बड़ी से बड़ी बीमारी का मुफ्त इलाज करूंगा।

बाबा रामदेव ने कहा, क्या इम्यून सिस्टम को बढ़ाने के लिए एलोपैथी में कोई इलाज है, नहीं ऐसी कोई दवा फार्मा इंडस्ट्री ने बनाई ही नही है, IMA के पीछे कुछ ताक़तें खड़ी हैं जो आयुर्वेद के पीछे पड़ी हैं, IMA के कुछ डॉक्टर्स ने कुंभ को लेकर अफवाहें फैलाई, बाबा ने कहा, आर-पार की लड़ाई के लिए भी तैयार हूं, जिसे आरपार की लड़ाई करनी है वो करके देख ले।