इजरायल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे 21 कश्मीरी गिरफ्तार, गंभीर धाराओं में दर्ज हुआ मुकदमा

इजराइल और फिलिस्तीन के बीच चल रहे संघर्ष को लेकर भारत में भी चर्चा तेज है, जम्मू कश्मीर में कुछ लोगों को इजराइल का विरोध करना भारी पड़ गया है, श्रीनगर में इजराइल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे 21 कश्मीरियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है, इन सबके खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है. जम्मू कश्मीर ने आईजी विजय कुमार ने ‘द हिन्दू’ को बताया कि 20 लोगों की गिरफ़्तारी श्रीनगर से हुई थी जबकि एक की शोपियां से।

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने उन असामाजिक “तत्वों” के खिलाफ कार्रवाई की चेतावनी दी है जो कश्मीर घाटी में शांति और व्यवस्था को बिगाड़ने के लिए विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. आईजी विजय कुमार ने कहा, professional force हैं और जनता के प्रति संवेदनशील हैं। लेकिन जम्मू-कश्मीर पुलिस की भी कानून-व्यवस्था सुनिश्चित करने की कानूनी जिम्मेदारी है। किसी को शांति व्यवस्था भंग करने की इजाजत नहीं दी जा सकती।

श्रीनगर के पड़शाही बाग और सफा कदल इलाकों में कुछ लोगों ने इजराइल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते हुए इजराइल के झंडे को आग लगा दी, इसके अलावा उन उपद्रियों के हाथों में कुछ पोस्टर भी थे जिसमें WE फिलिस्तीन लिखा था।

आपको बता दें कि इजराइल ने कल गाजा में एयरस्ट्राइक की, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इजराइल ने गाजा की लगभग सबसे बड़ी इमारत ‘अल जला टावर’ पर बमबारी कर इसे ध्वस्त कर दिया, इस ईमारत में अलजजीरा, एसोसिएटेड प्रेस, AFP और समेत कई इंटरनेशनल न्यूज़ एजेंसियों का दफ्तर था. गाजापट्टी में सोमवार से अब तक 140 फिलिस्तीनी मारे जा चुके हैं। लगभग एक हजार घायल हैं।