दिल्ली में बेकाबू हुए हालात, हर घंटे हो रही 14 लोगों की मौत, CM केजरीवाल विज्ञापन देने में व्यस्त

दिल्ली में कोरोना वायरस का प्रकोप जारी है। दिल्ली में दिन-प्रतिदिन हालात बहुत भयावह होते चले जा रहे हैं। दिल्ली की लचर स्वास्थ्य सुविधाओं उजागर हुई हैं, दिल्ली में हालात बेकाबू हो गए हैं, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि दिल्ली में हर घंटे में कोरोना वायरस से 14 लोगों की मौत हो रही है. कोरोना को कंट्रोल करने के बजाय सीएम केजरीवाल विज्ञापन देनें में मस्त हैं।

विज्ञापन में तो केजरीवाल कहते हैं दिल्ली की स्वास्थ्य व्यवस्था वर्ल्ड क्लॉस की है, लेकिन हकीकत यह है कि दिल्ली में न तो अस्पताल खाली है, न अस्पतालों में बेड्स मिल रहे हैं, जीवनरक्षक दवाओं की भी भारी कमी है, जबकि ऑक्सीजन की किल्लत तो लम्बे समय से देखी ही जा रही है. दिल्ली में हर रोज मौतों का आंकड़ा बढ़ रहा है। रोज कोई न कोई अपने किसी करीबी या परिजन को खो रहा है.

दिल्ली में जहाँ हर घंटे 14 लोगों की मौत हो रही है तो वहीँ बीते 24 घंटे में ही 341 लोगों ने कोरोना से दम तोड़ दिया, वहीँ एक दिन में 19 हजार से ज्यादा कोरोना के नए मामलें सामने आये हैं. दिल्ली में 25 फीसदी के करीब पॉजिटिविटी रेट लगातार बना हुआ है. दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने केंद्र सरकार से रोजाना 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन माँगा है.

एक तरफ जहाँ दिल्ली में कुछ लोग ऑक्सीजन की किल्लत की वजह से दम तोड़ रहे हैं तो वहीँ केजरीवाल के मंत्री इमरान हुसैन पर ऑक्सीजन की कालाबाजारी करने का आरोप लगा है, दिल्ली हाईकोर्ट ने केजरीवाल के मंत्री को नोटिस भेजकर न सिर्फ जवाब माँगा है बल्कि कोर्ट में उपस्थित रहने का भी आदेश दिया है.

केजरीवाल के विधायक इमरान हुसैन पर आक्सीजन की कालाबाजारी करने का आरोप लगने के बाद दिल्ली के भाजपा सांसद प्रवेश वर्मा ने कहा, केजरी गैंग ने दिल्ली को नर्क बना दिया। मुफ्त की चीजों की महंगी कीमत चुकानी पड़ती है !