दिल्ली बॉर्डर पर फिर लगने लगा कथित किसानों का जमावड़ा, कपिल बोले- सुप्रीम कोर्ट की कमजोरी की तरफ इशारा है

देश में कोरोना का कहर जारी है, इसके बावजूद एक बार फिर से कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाते हुए दिल्ली की विभिन्न सीमाओं पर हजारों लोगों का जमावड़ा लगने लगा है, भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने कहा कि ‘कोरोना के नियमों की धज्जियाँ सुप्रीम कोर्ट की नाक के नीचे उड़ाई जा रही हैं, हजारों लोगों का जमावड़ा भारत के सुप्रीम कोर्ट की कमजोरी की तरफ एक इशारा है.

भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने अपने ट्वीट में लिखा, दिल्ली के बॉर्डर पर हजारों लोगों का जमावड़ा भारत के सुप्रीम कोर्ट की कमजोरी की तरफ एक इशारा है। आम जनता के लिए अलग कानून, खास एजेंडा वालों के लिए अलग कानून। दिल्ली के नागरिकों के मूल अधिकारों की और कोरोना के नियमों की धज्जियाँ सुप्रीम कोर्ट की नाक के नीचे उड़ाई जा रही हैं।

आपको बता दें कि 26 मई को कथाकथित किसानों के आंदोलन को 6 महीनें पूरे हो जाएंगे, इस दौरान ये कोरोना गाइडलाइन को ताक पर रखकर बड़ा प्रदर्शन करने की योजना बना रहे हैं, अगर एक भी कोरोना संक्रमित व्यक्ति पहुंचा तो भीषण कोरोना विस्फोट होनें से कोई नहीं रोक सकता। कांग्रेस समेत 12 राजनैतिक पार्टियों ने इन्हें समर्थन भी दिया है.

संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने कहा कि पंजाब व् करनाल और आसपास के इलाकों से हजारों किसान सिंघु बॉर्डर पर केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन में शामिल होने पहुँच रहे हैं.