ऑक्सीजन तथा जीवनरक्षक दवाओं की कालाबाजारी व मुनाफाखोरी करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही के आदेश

देशभर में कोरोना वायरस एक बार फिर कहर बरपाने लगा है, कोरोना काल में ऑक्सीजन तथा अन्य जीवनरक्षक दवाओं की मांग बढ़ गई है, लेकिन इस आपदा के समय भी कुछ लोग ऑक्सी जन तथा जीवनरक्षक दवाओं की कालाबाजारी मुनाफाखोरी कमाने में लगे हैं। ऐसे लोगों के खिलाफ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कड़ी कार्यवाही करने के आदेश दिए हैं.

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, ऑक्सीजन तथा जीवनरक्षक दवाओं की कालाबाजारी व मुनाफाखोरी करने वालों पर लगातार सख्त से सख्त कार्रवाई की जाए, सीएम योगी ने कहा, प्रदेश में रेमडेसिविर सहित अन्य जीवनरक्षक दवाओं की पर्याप्त आपूर्ति सुनिश्चित की गई है। जनपदवार मांग के अनुसार रेमडेसिविर के वायल उपलब्ध कराए जाएं। सरकारी अस्पतालों में यह इंजेक्शन निःशुल्क एवं निजी अस्पतालों में तय दरों पर उपलब्ध है।

सीएम ने कहा, कोविड मरीजों के आवागमन के लिए जिलों में पर्याप्त एम्बुलेंस की व्यवस्था की गई है। हर जरूरतमंद को एम्बुलेंस मिले, इसके लिए उत्तरदायित्व निर्धारित किया जाए. प्रदेश के अधिकांश जिलों में ऑक्सीजन प्लांट, जिला अस्पताल या समकक्ष अस्पताल स्वयं की पावर बैकअप व्यवस्था के साथ स्थापित किए जा रहे हैं। इस कार्य में भारत सरकार का सहयोग भी प्राप्त हो रहा है.

सीएम योगी ने कहा, प्रदेश सरकार ऑक्सीजन टैंकरों की संख्या बढ़ाने का प्रयास कर रही है। ऑक्सीजन टैंकरों को GPS सिस्टम से जोड़कर उनके संचालन की ऑनलाइन माॅनिटरिंग भी की जा रही है.