यूपी: 100 किलो रसगुल्ले के साथ ‘प्रधान पद प्रत्याशी’ गिरफ्तार, चुनाव में मतदाताओं को लालच देने का आरोप

उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव का प्रचार-प्रसार जोरों पर है, मतदाताओं को लुभानें के लिए सभी प्रत्याशी अपने-अपने हिसाब से तमाम तिकड़म अपना रहे हैं, इसी कड़ी में एक प्रधान पद प्रत्याशी ने रसगुल्ला खिलाकर मतदाताओं का मुंह मीठा करानें की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने रसगुल्ले के साथ गिरफ्तार कर लिया, यह मामला उत्तर प्रदेश के अमरोहा का है..

अमरोहा पुलिस ने ट्वीट कर जानकारी दी है, पुलिस ने अपने ट्वीट में लिखा, पंचायत चुनाव में मतदाताओं को लालच देने के आरोप में थाना हसनपुर जनपद अमरोहा उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा 100 किलो रसगुल्लो के साथ प्रधान पद प्रत्य़ाशी गिरफ्तार।

बता दें कि उत्तर प्रदेश में हो रहे पंचायत चुनाव में ‘जिला पंचायत सदस्य’ पद का चुनाव लड़ने वाला प्रत्याशी चुनाव में 1,50,000 तक खर्च कर सकता है, प्रधान पद प्रत्याशी और बीडीसी प्रत्याशी 75,000- 75,000 रूपये तक खर्च कर सकता है जबकि ग्राम पंचायत सदस्य चुनाव में 10,000 रूपये तक खर्च कर सकता है।

पंचायत चुनाव में पहले चरण की नामांकन प्रक्रिया शनिवार 3 अप्रैल से शुरू हो चुकी है, रविवार तक चलने वाली इस प्रक्रिया के तहत राज्य के 18 जिलों में ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत, क्षेत्र व जिला पंचायत सदस्य के पदों के लिए उम्मीदवार अपने नामांकन दाखिल करेंगे। इन दोनों दिनों में इन 18 जिलों के सभी विकास खंड मुख्यालयों पर सुबह 8 बजे से शाम 5 बजे के बीच नामांकन पत्र दाखिल किये जाएंगे। राज्य निर्वाचन आयोग ने कोरोना संक्रमण से बचाव की हिदायत देते हुए कोविड-19 के प्रोटोकाल का अनुपालन करते हुए गाइडलाइन जारी की है।