योगी के डर से व्हीलचेयर पर बैठ गया था मुख्तार अंसारी, बाँदा पहुँचते ही उठ खड़ा हुआ

उत्तर प्रदेश का कुख्यात अपराधी मुख़्तार अंसारी पंजाब की रोपड़ जेल में बंद था, यूपी की योगी सरकार उसे किसी भी कीमत पर यूपी लाना चाहती थी, यूपी न आना पड़े इसके लिए मुख़्तार अंसारी हर मुमकिन तिकड़म लगा रहा था, इसमें उसे पंजाब की कांग्रेस सरकार का हरसंभव सहयोग भी मिल रहा था, आख़िरकार मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा और सुप्रीम कोर्ट ने मुख़्तार अंसारी को पंजाब से यूपी भेजनें का आदेश दिया।

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के डर से दुर्दांत अपराधी मुख़्तार अंसारी व्हीलचेयर पर बैठ गया ताकि उसे यूपी न जाना पड़े, व्हीलचेयर पर बैठकर मुख़्तार अंसारी न सिर्फ लोगों की सहानुभूति जुटाना चाहता था बल्कि यह भी जताना चाहता था कि वह बहुत बीमार है, उसे यूपी न भेजा जाय, हालाँकि उसकी एक भी कलई काम नहीं आई और अंततः यूपी लाया गाया।

यूपी पुलिस की टीम कल दोपहर लगभग दो बजे पंजाब की रोपड़ जेल से मुख़्तार अंसारी को लेकर निकली, सुबह तकरीबन साढ़े 4 बजे बांदा जेल पहुँची, जेल पहुंचने के बाद जेल के अधिकारियों ने मुख़्तार अंसारी को व्हीलचेयर ऑफर किया लेकिन वो पैदल ही अपने बैरक की ओर निकल पड़ा, ऐसा लग रहा था कि जूस कुछ हुआ ही नहीं है, बस बहाना बना रहा था यूपी न आने का.

loading...