पंजाब की जेल में मौज मार रहा था मुख़्तार अंसारी, बांदा की जेल में हुआ बुराहाल, कोई VIP सुविधा नहीं

माफिया मुख़्तार अंसारी को यूपी पुलिस पंजाब की रोपड़ जेल से उत्तर प्रदेश की बांदा जेल लाकर शिफ्ट कर चुकी है, हालाँकि पंजाब और बांदा की जेल में जमीन आसमान का फर्क है, पंजाब की जेल में मुख़्तार अंसारी को सभी वीवीआईपी सुविधाएं दी जा रही थी, लेकिन बांदा जेल में मुख़्तार को कोई वीआईपी सुविधा नहीं दी जा रही है, जैसे आम कैदी रखे गए हैं, वैसे ही मुख़्तार अंसारी भी रखा गया है.

मुख़्तार अंसारी को बांदा जेल की बैरक नंबर-16 में रखा गया है, बैरक में वो अकेले है, उसके बैरक को सीसीटीवी कैमरों से लैश कर दिया गया है, लखनऊ तक से निगरानी की जा रही है, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पहले दिन बांदा जेल में मुख़्तार अंसारी काफी बेचैन दिखा, पंजाब जेल में तीन टाइम खाने वाला मुख़्तार अंसारी बांदा जेल में एक ही टाइम खाना खाया।

इसके अलावा रात में उठ-उठकर बैरक में टहलता रहा, दीवारों को निहारता रहा, क्योंकि उसके आसपास उससे बातचीत करने वाला कोई नहीं है, मछरों ने भी मुख़्तार अंसारी का जोरदार तरीके से स्वागत किया, सुविधा के नाम पर छत का पंखा लगा है लेकिन जिस हिसाब से गर्मीं पड़नी शुरू हुई है, ये भी बेअसर हो जाएगा।

कहा जाता है कि पहले जब मुख़्तार अंसारी उत्तर प्रदेश की जेल में बंद होता था तो उसे वीवीएआईपी सुविधाएं दी जाती थी, लेकिन योगीराज में कोई वीवीआईपी सुविधा नहीं दी जा रही है, अब मुख़्तार अंसारी को समझ आ रहा होगा जेल में रहने का असली मतलब।