फरीदाबाद में मुर्दे को लग गयी कोरोना वैक्सीन की क्या है सच्चाई, पढ़ें

faridabad-corona-vaccine-to-dead-man-reality

फरीदाबाद, 9 अप्रैल: फरीदाबाद के SGM नगर के रहने वाले कृष्णलाल ने 2 अप्रैल को पास के ही एक स्कूल में लगे कैम्प में 11 बजे के आसपास कोरोना वैक्सीन लगवाई थी, 2 अप्रैल को ही करीब 10 घंटे बाद 12 बजे रात में उनकी मौत हो गयी.

मृतक कृष्णलाल के बेटे ने बताया कि उनके पिताजी वैक्सीन लगाने से पहले पुरी तरह स्वस्थ थे, वैक्सीन लगाने के बाद उनकी हालत खराब हुई और 12 बजे रात में उनकी मौत हो गयी.

3 अप्रैल को पास के ही मुक्तिधाम में कृष्णलाल का अंतिम संस्कार कर दिया गया. देखिये पर्ची –

krishnalal death in faridabadहैरानी की बात ये है कि कृष्णलाल को वैक्सीन लगी थी 2 अप्रैल को लेकिन हेल्थ विभाग ने 6 अप्रैल का सर्टिफिकेट बना दिया, मतलब हेल्थ विभाग के अनुसार कृष्णलाल को 6 अप्रैल को वैक्सीन लगी. देखिये सर्टिफिकेट की कॉपी –

faridabad-newsइस सर्टीफिकेट को देखकर दुनियाभर के न्यूज़ चैनल और अखबार यह खबर चला रहे हैं कि फरीदाबाद में मुर्दे को वैक्सीन लग गयी. लोग सस्पेंस क्रिएट कर रहे हैं इसलिए मैंने इस खबर के माध्यम से दुनिया को सच बता दिया है. यहाँ पर हेल्थ विभाग ने सर्टिफिकेट बनाने में मिस्टेक की है. इसके अलावा वैक्सीन लगाने से हुए साइड इफ़ेक्ट की वजह से कृष्णलाल की जान चली गयी. इस बात की जानकारी उनके बेटे ने दी. तवियत खराब होने के बाद कृष्णलाल को बीके हॉस्पिटल की एमरजेंसी में भर्ती भी कराया गया था, देखिये पर्ची – जो 3 अप्रैल की समय 12.44 AM की है. हालाँकि अस्पताल पहुँचते ही उन्हें डेड घोषित कर दिया गया था.

faridabad-hindi-news