दीप सिद्धू को BJP एजेंट कहने वाले अब मना रहे रिहाई का जश्न, अकाली दल ने हीरो की तरह किया स्वागत

deep-siddhu-released-from-jail-akali-dal-welcome-him

दिल्ली: अकाली दल ने लाल किला झंडा कांड में जेल गए लोगों की जमानत कराने का ठेकेदार बन गयी है। सभी लोगों को किसान नेता बताकर उनकी जमानत करा रही है।

लाल किले पर 26 जनवरी के दिन तिरंगे को फेंककर खालसा झंडा फहराने वाले दीप सिद्धू को पहले लोग भाजपा का एजेंट बता रहे थे लेकिन अब उन्होंने अपनी असलियत खुद ही बता दी है। आप को बता दें कि गणतंत्र दिवस के दिन लाल किले पर किसी ने दीप सिद्धू को फहराने के लिए तिरंगा दिया लेकिन दीप सिद्धू ने उसे फेंक दिया और उसकी जगह खालसा पंथ का झंडा लगा दिया।

जमानत मिलने के बाद अकाली दल ने दीप सिद्धू का हीरो की तरह स्वागत किया है और उसकी रिहाई को किसान आंदोलन की जीत बताया है। रिहाई के तुरंत बाद उसे अकाली दल के नेता रकाबगंज साहिब गुरुद्वारा लेकर गए और अरदास कराई। अकाली दल के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा ने ट्वीट किया है –

आपको बता दें कि लाल किला कांड के दिन अकाली दल सहित सभी विपक्षी दल दीप सिद्धू को भाजपा का एजेंट बता रहे थे लेकिन आज उसकी रिहाई को किसान आंदोलन की जीत बतायी जा रही है और उसका हीरो की तरह स्वागत किया जा रहा है।