‘अखिल भारतीय ब्राह्मण सभा’ ने PM मोदी को लिखा पत्र, त्रिपुरा के DM शैलेश यादव पर कार्यवाही की मांग

‘अखिल भारतीय ब्राह्मण सभा’ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर त्रिपुरा वेस्ट के जिलाधिकारी ( डीएम ) शैलेश कुमार यादव के खिलाफ कार्यवाही करनें की मांग की है, गौरतलब है कि मैरिज हाल में एक शादी हो रही थी तभी अपने दलबल के साथ पहुंचे त्रिपुरा वेस्ट के डीएम शैलेश कुमार यादव ने न सिर्फ शादी में लठ चलवाया बल्कि परिवार व् रिश्तेदारों को खुलेआम बेइज्जत किया और बेहूदगी से बात की, वीडियो वायरल होनें के बाद डीएम यादव की जमकर आलोचना हो रही है.

‘अखिल भारतीय ब्राह्मण सभा’ ने अपने पत्र में लिखा है, ‘डीएम शैलेश कुमर यादव द्वारा कानून की उल्लंघना की आड़ में शर्मनाक कृत्य किया गया व् सम्मानित ब्राह्मण को थप्पड़ मारा और वहां मौजूद लोगों पर लाठियां चलवाई, परिवार के द्वारा परमिशन के कागज दिए जानें पर कागजात के टुकड़े-टुकड़े कर दिए. यह ठीक है आप कानून के रखवाले हैं परन्तु मानवता को तार-तार करनें का आपको कोई उचित अधिकार नहीं नहीं है.

पत्र में आगे लिखा गया है ‘प्रधानमंत्री जी से अनुरोध है डीएम को बर्खास्त किया जाय और उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाय, इसके साथ ही पंडित जी समेत वहां मौजूद सभी लोगों से सार्वजनिक माफ़ी मंगवाई जाय.

दो दिन पहले सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें डीएम शैलेश यादव कोरोना के कारण एक शादी समारोह को बेहद ही गलत ढंग से रुकवा रहे थे, बारातियों पर पुलिस से लठ भंजवा रहे थे, दूल्हे व् उसके रिश्तेदारों से बेहूदगी से बात कर रहे थे. वीडियो वायरल होने के बाद त्रिपुरा के कई भाजपा विधायकों ने मुख्यमंत्री विप्लब देब को पत्र लिखकर डीएम शैलेश यादव को सस्पेंड करने की मांग की है।

वायरल वीडियो में डीएम शैलेश यादव कहते हैं कि ‘शादी में उपस्थित सभी लोगों ने सीआरपीसी की धारा 144 का उल्लंघन किया है. सभी पर कार्यवाही की जाएगी, इस घटना के बाद पश्चिम त्रिपुरा की सांसद और भाजपा नेता प्रतिमा भौमिक ने कहा कि वह दुल्हन के रिश्तेदारों से मिलने जाएंगी और उनसे इस घटना के बारे में बात करेंगी। कल रात जो हुआ वह सबसे ज्यादा अवांछित है। ऐसा नहीं होना चाहिए था. सुदीप रॉय बर्मन, आशीष कुमार साहा और सुशांत चौधरी सहित कई भाजपा विधायकों ने मुख्य सचिव मनोज कुमार को पत्र लिखकर डीएम को हटाने की मांग की है.