यति नरसिंहानंद का गला काटने के लिए उकसा रहा अमानतुल्लाह खान, बोला- नबी की शान में गुस्ताखी बर्दाश्त नहीं

आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान डासना देवी मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती का गला और जुबान काटने के लिए उकसा रहे हैं, अमानतुल्लाह ने नरसिंहानंद का एक वीडियो शेयर करते हुए लिखा, इसकी ( यति नरसिंहानंद ) की ज़ुबान और गर्दन दोनो काट कर इसे सख़्त से सख़्त सजा देनी चाहिए। लेकिन हिंदुस्तान का क़ानून हमें इसकी इजाज़त नहीं देता।

आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्लाह खान ने अपने ट्वीट में लिखा, हमारे नबी की शान में गुस्ताखी हमें बिल्कुल बर्दाश्त नहीं, इस नफ़रती कीड़े की ज़ुबान और गर्दन दोनो काट कर इसे सख़्त से सख़्त सजा देनी चाहिए। लेकिन हिंदुस्तान का क़ानून हमें इसकी इजाज़त नहीं देता, हमें देश के संविधान पर भरोसा है और मैं चाहता हूँ कि दिल्ली पुलिस इसका संज्ञान ले।

अमानतुल्लाह खान ने यति नरसिंहानंद का जो वीडियो शेयर किया है उसमें वो प्रेस क्लब ऑफ़ इण्डिया में प्रेस-कॉन्फ्रेंस करके इस्लाम को लेकर टिप्पणी करते हुए दिखाई दे रहे हैं।

प्रेस-विज्ञप्ति जारी कर यति नरसिंहानंद सरस्वती ने कहा, अब सम्पूर्ण विश्व के हालात दिन प्रतिदिन खराब होते जा रहे हैं। पूरी दुनिया में बढ़ती हुई मुस्लिम जनसँख्या ने पूरी दुनिया को विनाश की ओर धकेल दिया है। पूरी दुनिया उनके सामने बेबस नजर आ रही है। दुर्भाग्य से भारत इस समय पूरी दुनिया की सबसे कमजोर कड़ी बन चुका है जो इस्लामिक देश बनने के बिल्कुल नजदीक पहुँच चुका है। अब यह बिल्कुल स्पष्ट है की 2029 में भारत का प्रधानमंत्री मुस्लिम बनेगा जिसके बाद भारत की स्थिति पाकिस्तान, बांग्लादेश,अफगानिस्तान,सीरिया, इराक,लेबनान से भी बदतर हो जायेगी।

नरसिंहानंद ने कहा, अपने विपुल संसाधन और जनसँख्या के बूते पर इस्लामिक भारत पूरी दुनिया के लिये सबसे बड़ा खतरा होगा और इस्लाम के जिहादी इसे अपना गढ़ बना कर सम्पूर्ण विश्व को बर्बाद कर देंगे। हम भारतवासी इस्लाम के जिहाद के सबसे बड़े और पुराने शिकार हैं।ये हमारी नैतिक व मानवीय जिम्मेदारी है कि हम सम्पूर्ण विश्व को इस्लामिक जिहाद के खतरों के बारे में बताए और मानवता को बचाने के लिये हर सम्भव बलिदान दे। उन्होंने बताया की सम्पूर्ण विश्व को इस्लामिक जिहाद के खतरे के बारे में बताने के लिये इसी वर्ष 15,16,17,18 और 19 दिसम्बर को सनातन धर्म की आध्यात्मिक राजधानी हरिद्वार में 5 दिवसीय विश्व धर्म संसद का आयोजन किया जाएगा जिसमे पूरी दुनिया के धर्मगुरु निमंत्रित किये जायेंगे।

loading...