माथे पर तिलक लगा साधू बनकर, गले में कंठी पहन लोगों को ठग रहा था अली खान, पकड़ा गया तो खुली पोल

माथे पर तिलक, गले में कंठी, हाथ में त्रिशूल और तन पे भगवा धारण करने वाला हर व्यक्ति हिन्दू संत ही नहीं होता है, इस वेश में मुस्लिम भी हो सकते हैं, जैसा कि अली खान नाम एक ढोंगी पकड़ा गया है, जो साधू बनकर हिन्दुओं को ठग रहा था, हिन्दू भी उसे बाबा समझ रहे थे, लेकिन जब पकड़ा गया तो इसकी असलियत सामने आ गई. सोशल मीडिया पर फर्जी साधू का वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जैसा कि वीडियो में एक व्यक्ति बोल रहा है उसके मुताबिक, ये पूरा मामला झारखण्ड के राउरकेला का है।

दरअसल हिन्दू संत का वेश धारण करके बनारस का रहने वाला अली खान राउरकेला में अपने एक भक्त से मिलने गया  था, इसी दौरान एक स्थानीय युवक ने इस फर्जी साधू को पकड़ा और पूछताछ शुरू की तो पता चला ये तो कोई हिन्दू संत नहीं बल्कि अली खान है, वीडियो में युवक कह रहा है कि जब हमने इसे पकड़ा और इससे वेद, पुराण और गीता के बारें में पूछा तो यह कुछ नहीं बता पाया।


युवक के मुताबिक, जब अली खान को लगा कि अब वह पकड़ा चुका है, उसकी असलियत सामने आ चुकी है, बचने के सभी संभावित रास्ते खत्म हो चुके हैं, तब उसने कहा, मेरे को माफ़ कर दो, मैं मुस्लमान हूँ, मेरा नाम अली खान है और पेट के लिए ये सब कर रहे हैं, वीडियो में देखा जा सकता है कि अली खान बाकायदा माथे पर तिलक लगाया है, गले में रुद्राक्ष समेत कई कंठियाँ पहन रखा है, हाथ में त्रिशूल भी लिया था, जिसमें डमरू बंधे हुए थे, इसके अलावा एक बैग लिया था जिसमें कुछ रुद्राक्ष, सिंदूर वगैरा थे.

ऐसे फर्जी बाबाओं के कारण असली हिन्दू साधू-संत बदनाम होते हैं, अली खान को पकड़ने वाले युवक ने लोगों से अपील की है कि जहाँ भी ऐसे बाबा दिखे उनसे वेद, पुराण और गीता आदि के बारें में पूछे, यह पता लगाने की कोशिश करें कि सचमुच हिन्दू संत हैं या साधू का वेश धारण करके लोगों को लूट रहे हैं।

loading...