सोनम महाजन ने मनजिंदर सिरसा को हड़काया, आतंकी भिंडरावाले के अनुयायी धार्मिक सौहार्द का लेक्चर ना दें

ट्रेक्टर परेड की आड़ में गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में लालकिले पर हुई हिंसा के सिख आरोपियों को अकाली दल के नेता मनजिंदर सिंह सिरसा क़ानूनी मदद मुहैया करवा रहा हैं, जिसपर पोलिटिकल एनालिस्ट सोनम महाजन ने सवाल खड़ा किया है..दरअसल मनजिंदर सिंह सिरसा जिन आरोपियों की जमानत करवा रहे हैं, उसकी जानकारी ट्विटर पर साझा कर रहे हैं.

इसी कड़ी में सिरसा ने जानकारी देते हुए ट्वीट किया, DSGMC लीगल टीम की सफलताओं का सिलसिला जारी है – आज नांगलोई FIR46/2021 में 13 किसानों को मिलेगी रिहाई Folded hands मैं DSGMC के सभी एडवोकेट को बधाई देता हूँ और किसानों की क़ानूनी सहायता करने के लिए उनका बहुत बहुत शुक्रिया अदा करता हूँ.

इस ट्वीट पर सवाल दागते हुए राजनितिक विश्लेषक सोनम महाजन ने पूछा, इस लिस्ट में केवल सिख नाम ही क्यों हैं, इसका दो मतलब हो सकता है..आप केवल सिख किसानों की बेल करवा रहे हैं, जैसा कि आरोप लग रहा है कि आप केवल सिख किसान कृषि कानून का विरोध कर रहे हैं, सोनम ने लिखा, इसके पीछे आपका ( सिरसा ) का धार्मिक एजेंडा है।

इसके बाद सोनम महाजन को जवाब देते हुए सिरसा ने लिखा, DSGMC द्वारा रिहा कराये किसानों की लिस्ट ध्यान से देखो सोनम महाजन जी, आँखों से नफ़रत की पट्टी उतारोगी तो दिखेगा न. 10, 11 हिंदु किसान हैं (हरियाणा)हम किसानों के लिए लड़ रहे हैं और उसे सेवा की तरह निभा रहे हैं, तुम्हारी तरह धर्म के नाम पर नफ़रत और झूठ की फ़ैक्ट्री नहीं चला रहे.

सिरसा पर पलटवार करते हुए सोनम महाजन ने ट्विटर पर लिखा, सिरसा जी, क्या आप वही हैं, जिसने कहा था कि हिंदू लड़कियाँ, जबरन धर्म परिवर्तन की शिकार बनती हैं क्यूँकि उनका धर्म कमज़ोर है? पाकिस्तान के ग्रंथी की बेटी जिसे मुसलमान उठा ले गए, के बारे में आपका क्या ख़याल है? आतंकवादी भिंडरावाले के अनुयायी, धार्मिक सौहार्द का लेक्चर ना दें। उन्होंने आगे लिखा, चलिए अब सच-झूठ पर आते हैं, इज़राइल की राजपूतों की शान में रिलीज़ की गयी स्टैम्प को कौन अपने मज़हब की उपलब्धि बता कर, झूठी वाह वाहियाँ बटोरता है? आपकी तो पार्टी ने भी आपसे किनारा कर लिया, गुरुद्वारों के सोशल मीडिया को अपना नीजी कम्यूनल अजेंडा चलाने के लिए मत इस्तेमाल करें।

loading...