धारा 370 हटने से दूर हुआ अँधेरा, दशकों बाद जगमगाया कश्मीर का शंकराचार्य शिव मंदिर: वीडियो

धारा 370 हटने के बाद कश्मीर में हालात कितने बदल गए हैं, इसकी एक झलक महाशिवरात्रि पर देखने को मिली। श्रीनगर के शंकराचार्य शिव के मंदिर में जहां सुबह मंत्रोच्चारण की गूंज दूर-दूर तक सुनाई दे रही थी तो रात को यहां का नजारा सबको अपनी तरफ खींच रहा था। देशभर में आज धूमधाम से महाशिवरात्रि मनाई जा रही है.

डल झील के किनारे गोपाद्री पर्वत के शिखर पर स्थित शंकराचार्य शिव मंदिर महाशिवरात्रि को रंग-बिरंगी रोशनी से जगमगा उठा। इसकी छटा कई किमी दूर से दिखाई दे रही थी। मंदिर के गुंबद के अलावा चाहदीवारी को रंग-बिरंगी लड़ियों से सजाया गया था। मंदिर में भक्तों का आना अनवरत जारी है।

शंकराचार्य शिव मंदिर के जगमग होने के फोटो फेसबुक, ट्विटर और सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। फेसबुक पर कुछ लोगों ने फोटो के साथ संदेश भी लिखे कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद दशकों का अंधेरा दूर हुआ।

गौरतलब है कि केंद्र की मोदी सरकार ने 5 अगस्त 2019 को जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा प्रदान करने वाली धारा 370 को हटा दिया। 370 हटने के बाद घाटी में अब बड़े परिवर्तन देखने को मिल रहे हैं, कश्मीर घाटी में सूनसान पड़ी मंदिरों के गौरव को वापस लाने का कार्य प्रारम्भ हो चुका है, जिन-जिन मंदिरों को आतंकियों ने तोड़ दिया था अब उनका जीर्णोद्धार शुरू हो चुका है।

मंदिर का जीर्णाेद्धार शुरू होने से वहां रहे कश्मीरी हिन्दुओं में ख़ुशी की लहर है, क्योंकि 31 साल बाद अब वो मंदिर में दर्शन-पूजा-पाठकर सकेंगें। इसके अलावा देशभर के पर्यटक भी इस गुमनाम विरासत का दर्शन कर सकेंगें।