अपने तबादले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे परमबीर, देशमुख पर उनके आरोपों की CBI जांच की मांग

तीन दिन पहले महाराष्ट्र सरकार ने मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह का तबादला करके उन्हें डीजी होमगॉर्ड बना दिया, अब अपने तबादले के खिलाफ परमबीर सिंह ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है, इसके अलावा उन्होंने मांग की है कि गृहमंत्री अनिल देशमुख पर उनके आरोपों की CBI से जांच कराई जाए। उल्लेखनीय है कि तबादले के बाद परमबीर सिंह ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को पत्र लिखकर कहा था कि गृहमंत्री अनिल देशमुख ने सचिन वाजे को हर महीनें 100 करोड़ रूपये वसूलनें का निर्देश दिया था, परमबीर के इस पत्र के बाद महाराष्ट्र की सियासत में भूचाल आ गया है…ध्यान रहे सचिन वाजे को एंटीलिया केस में राष्ट्रीय जांच एजेंसी ( NIA ) ने गिरफ्तार किया है.

सर्वोच्च अदालत में दायर की गई अपनी याचिका में परमबीर सिंह ने कहा है कि उन्होंने जो दावे किए हैं, उनकी सीबीआई द्वारा जांच की जानी चाहिए. इसके अलावा अफसर रश्मि शुक्ला ने जो ट्रांसफर-पोस्टिंग को लेकर जो रिपोर्ट सबमिट की थी, उसकी भी जांच की जानी चाहिए। इतना ही नहीं, परमबीर सिंह ने अपील की है कि महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख के घर के सीसीटीवी की जांच होने चाहिए, ताकि सभी तथ्य हर किसी के सामने आ जाएं

परमबीर सिंह ने दावा किया कि अनिल देशमुख अपने घर पर सचिन वाजे के साथ लगातार बैठक कर रहे थे, इसी दौरान उन्होंने सचिन वाजे को मुंबई से हर महीने 100 करोड़ रुपये कलेक्ट करने का टारगेट दिया था..परमबीर सिंह ने दावा किया कि उन्होंने इस बारे में मुख्यमंत्री को जानकारी दी, लेकिन कुछ वक्त बाद ही उनका ट्रांसफर कर दिया गया.