पाकिस्तान में नहीं थम रहा हिन्दुओं पर अत्याचार, मियां मिट्ठू ने 13 साल की हिन्दू लड़की का जबरन कराया धर्मांतरण और निकाह

पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर हो रहा अत्याचार थमने का नाम नहीं ले रहा है, पाकिस्तानी मुस्लिम कभी सिखों को को निशाना बना रहे हैं तो कभी हिन्दुओं पर कहर बरपा रहे हैं। पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की जिंदगी बद से बदतर हो गयी है, अल्पसंख्यकों पर अत्याचार का आलम यह है की हिन्दू बच्चियों का जबरन धर्मांतरण कर निकाह करा दिया जा रहा है..

ताजा मामला पाकिस्तान में सिंध प्रांत के घोटकी से आया है जहाँ पूर्व सांसद मियां मिट्ठू ने एक बार फिर हिंदू नाबालिग लड़की को अगवा कराकर धर्मांतरण करा दिया। 13 साल की नाबालिग कविता को उसके अपहर्ता के हवाला कर दिया। पूरी भीड़ सामने खड़ी होकर तमाशा देखती रही और वीडियो बनाने में मशगूल रही। इसके खिलाफ पाकिस्तान में हिंदुओं का गुस्सा सातवें आसमान पर है। मगर अब तक इमरान के मुंह से एक शब्द नहीं निकला है।

बता दें, पाकिस्तान में हर साल हजारों लड़कियों का धर्मपरिवर्तन करा दिया जाता है। पहले से ही पाकिस्तान अल्पसंख्यक और महिलाओं के लिए नर्किस्तान का दर्जा पा चुका है । पाकिस्तानी मानवाधिकार आयोग की कार्यकर्ता अनिला गुलजार ने रिपोर्ट में कहा है कि पाकिस्तानी में महिलाओं को घर और दफ्तर दोनों जगहों पर यौन हिंसा का शिकार होना पड़ता है और उनके साथ सबसे ज्यादा लैंगिक भेदभाव किया जाता है।