लालू यादव को लगा एक और बड़ा झटका, सजा की अवधि और बढ़ी

lalu-yadav-become-kingmaker-in-jharkhand-state-election

चारा घोटाले समेत कई मामलों में जेल की हवा खा रहे आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव को बड़ा झटका लगा है, हाई कोर्ट के न्यायाधीश न्यायमूर्ति अपरेश कुमार सिंह की अदालत में जेल मैनुअल उल्लंघन मामले में सुनवाई हुई। इस दौरान जेल आईजी की ओर से जेल मैनुअल में संशोधन किए जाने से संबंधित एसओपी को दाखिल किया गया। वहीं रिम्स निदेशक की ओर से बिना शर्त माफी मांगते हुए मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट दाखिल की गई।

निदेशक ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि लालू प्रसाद को कई गंभीर बीमारियां हैं, कुछ बीमारी की जांच भी नियमित करानी है। ऐसे में रिम्स में खास सुविधा नहीं होने के कारण और बेहतर इलाज के लिए उन्हें एम्स भेजा गया है। वहीं, रिपोर्ट देखने के बाद हाईकोर्ट संतुष्ट हुआ और इस मामले की सुनवाई अगले आदेश तक के लिए स्थगित कर दी।

लालू की सुरक्षा में जो पुलिसकर्मी और अधिकारी लगाए गए थे, उनकी लापरवाही सामने आई है। लालू यादव के फोन प्रकरण को लेकर जेल आईजी के साथ-साथ जिला प्रशासन ने भी जांच बैठाई थी। जेल प्रशासन ने अपनी रिपोर्ट जिला प्रशासन को सौंप दी है।

loading...