बंगाल पुलिस को बड़ा झटका, BJP की भारती घोष को सुप्रीम कोर्ट ने दी राहत, अब नहीं होगी गिरफ़्तारी

बंगाल पुलिस को बड़ा झटका लगा है, भाजपा नेता व् पूर्व आईपीएस अधिकारी भारती घोष को अब बंगाल पुलिस नहीं गिरफ्तार कर पाएगी, दरअसल सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर भाजपा नेता भारती घोष ने कहा था कि 2019 में उनके BJP में शामिल होने के बाद से बंगाल पुलिस लगातार परेशान कर रही है। अब फिर उन पर कई नए केस दर्ज कर दिए गए हैं…इस मामलें में सुप्रीम कोर्ट ने भारती घोष को बड़ी राहत देते हुए उनकी गिरफ़्तारी पर रोक लगा दी है.
सुप्रीम कोर्ट ने बंगाल पुलिस की तरफ से दर्ज मुकदमों में विधानसभा चुनाव तक गिरफ्तारी रोकी।

आपको बता दें कि भारती घोष भाजपा की टिकट पर बंगाल की “डेबरा’ सीट से विधानसभा चुनाव लड़ रही हैं, टीएमसी ने यहाँ से पूर्व आईपीएस हुमायूं कबीर को मैदान में उतारा है, यानि यहाँ न सिर्फ दो पार्टियों के नेताओं बल्कि दो पूर्व आईपीएस अधिकारीयों के बीच मुकाबला है, अब देखना दिलचस्प होगा कि किसके हस्से में जीत जाती है और किसके हिस्से में हार जाती है.

पूर्व आईपीएस अधिकारी भारती घोष कभी ममता बनर्जी की खासमखास अफसर हुआ करती थी, भारती घोष ने 2017 ने एक कम अहमियत वाले पद पर ट्रांसफर किए जाने के बाद इस्तीफा दे दिया था. उसके बाद भाजपा के साथ राजनीतिक पारी का आगाज किया।

loading...