राजस्थान: 15 साल की नाबालिग से 18 दरिंदों ने 9 दिन तक किया रेप, राठौर बोले- राहुल-प्रियंका चुप क्यों?

राजस्थान में रेप की घटनाएं रुकने का नाम ही नहीं ले रही है, ऐसा लगता है कि राजस्थान के रेपिस्टों के अंदर से कानून का भय खत्म हो चुका है, ताजा मामला कोटा से आया है, जहाँ 18 दरिंदों ने 15 साल की नाबालिग बच्ची के साथ 9 दिनों तक बलात्कार किया, इस शर्मशार कर देने वाली घटना के बाद देशभर में आक्रोश है, वहीँ भाजपा सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौर ने इस घटना पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी व् प्रियंका गांधी वाड्रा की चुप्पी पर भी सवाल उठाया है.

जानकारी के अनुसार, कोटा की एक 15 वर्षीय नाबालिग बच्ची को झालावाड़ ले जाकर 18 दरिंदों ने 9 दिनों तक अनगिनत बार रेप किया, दर्द से कराहने पर नाबालिग को नशा दे दिया जाता था, नशा लेने से मना करने पर दरिंदे पीटते थे…25 फरवरी को पीड़िता की पहचान की लड़की और उसका साथी बैग दिलाने के बहाने उसे कोटा के सुकेत से झालावाड़ ले गए वहां दरिंदों के हवाले कर दिया।

इसके बाद दरिंदों ने 9 दिनों तक रेप किया और 5 मार्च को वापस सुकेत छोड़ दिया, इसके बाद पीड़िता किसी तरह से अपने घर पहुंची और आपबीती परिजनों को सुनाई, 6 मार्च को पीड़िता ने अपनी विधवा माँ के साथ जाकर थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई, दैनिक भास्कर में छपी खबर के मुताबिक़, पीड़िता के भाई का कहना है कि हम पुलिस के पास गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखाने गए थे, लेकिन पुलिस ने हमें भगा दिया। रेप की घटना में शामिल अबतक 20 आरोपी पकडे जा चुके हैं, जिसमें 4 नाबालिग हैं।

इस घटना को लेकर भाजपा सांसद राज्यवर्धन सिंह राठौर ने कहा, पिछले दो हफ़्तों में, राजस्थान में एक बाद एक, कई शर्मनाक घटनाएं हुई हैं। राज्य में कानून व्यवस्था मानों पूरी तरह से दम तोड़ चुकी है। जालोर, अलवर, और जयपुर के बाद, अब कोटा में एक 15-वर्षीया बालिका के गैंगरेप की दर्दनाक घटना सामने आई है।

उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, राजस्थान की प्रदेश कांग्रेस सरकार चीर निद्रा में है। महिलाओं पर हो रहे अत्याचार को लगातार छुपाने की कोशिश जारी है। राहुल और प्रियंका, राजस्थान में लगातार हो रही बलात्कार की घटनाओं पर क्यों चुप हैं? उनकी ख़ामोशी की वजह क्या है? ऐसी दिल दहलाने वाली घटनाओं पर चुप्पी ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार के इरादों को जगजाहिर कर दिया है।