रखै*$? तो यदुवंशी परिवार की ही है, सपा समर्थक ने दी खुलेआम कांग्रेस नेता पंखुड़ी पाठक को गाली

Photo Credit - pankhuri Pathak Instagram

पंखुड़ी पाठक कभी समाजवादी पार्टी की तेजतर्रार प्रवक्ता हुआ करती थी, लेकिन 2018 में उन्होंने सपा छोड़कर कांग्रेस का हाथ थाम लिया, सपा छोड़ने के बाद पंखुड़ी पाठक लगातार सपा समर्थकों के निशाने पर रहती हैं, आये दिन उनपर सोशल मीडिया के जरिये सपाई अभद्र टिप्पणी करते रहते हैं..अब फिर एक सपा समर्थक ने पंखुड़ी पर बेहद घिनौनी टिप्पणी की है, जिसकी जानकारी खुद कांग्रेस नेता पंखुड़ी पाठक ने ट्वीट कर दी है…

कांग्रेस नेता पंखुड़ी पाठक ने एक स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए अपने ट्वीट में लिखा, महिलाओं के प्रति ऐसी सोच ही प्रदेश में बढ़ रहे महिला अपराध का कारण है अगर यह लोग अपनी भाषा पर स्वयं लगाम नहीं सकते तो कानून को इनको सही भाषा सिखानी होगी।

पंखुड़ी ने जो स्क्रीनशॉट शेयर किया है, उसमें अरुण कुमार यादव नामक एक व्यक्ति ने लिखा है, समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय अखिलेश यादव जी ने इस बालिका ( पंखुड़ी पाठक ) को पार्टी में बहुत इज्जत दिया, और ये पार्टी का नमक खाकर दूसरी पार्टी में चली गई, पर रखैल तो यदुवंशी परिवार की है, इस तरह की पोस्ट काहें कर रही है बे. उन्होंने आगे लिखा, आदमी कितने भी दुःख में हो जब भगवान स्वरुप कोई इंसान घर पर आ जाए तो सब गम भूल जाता है..अरुण यादव की भाषा शैली से लगता है कि वो अगर सपा कार्यकर्ता नहीं है तो सपा समर्थक जरूर है…हालाँकि इसकी पुष्टि हम नहीं करते।

दरअसल मामला यह है कि पंखुड़ी पाठक ने अपने फेसबुक पर एक पोस्ट शेयर की थी, जिसमें प्रियंका गाँधी वाड्रा और अखिलेश यादव को कम्पेयर किया गया था..इस पोस्ट के माध्यम से यह बताने की कोशिश की गई थी जब प्रियंका किसी पीड़िता परिवार से मिलने जाती हैं तो उनका क्या अंदाज होता है और जब अखिलेश जाते हैं तो उनका क्या अंदाज होता है..

आपको बता दें कि पंखुड़ी पाठक ने जब सपा से इस्तीफा दिया था तो उन्होंने अपने फेसबुक पोस्ट के माध्यम से कहा था, हर संगठन, हर दल का एक चरित्र होता है कई बार नेतृत्व बदलने से चरित्र भी बदल जाता है, नेतृत्व दल के भीतर अराजक तत्वों पर क्या रवैया रखता है इससे बहुत फ़र्क़ पड़ता है, सपा का भी चरित्र बदल गया है।

loading...