मन की बात में बोले पीएम मोदी, दर्जनों देशों तक Made in India वैक्सीन पहुंचते देखते हैं, तो माथा ऊंचा हो जाता है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मन की बात का 74वां संस्करण पेश किया. इस मौके पर उन्होंने आत्मनिर्भऱ भारत अभियान का जिक्र भी किया. सांइस डे के मौके पर आत्मनिर्भर अभियान की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत अभियान’ में Science की शक्ति का बहुत बड़ा योगदान है।

हमें साइंस को ‘Lab to Land’ के मंत्र के साथ आगे बढ़ाना होगा. उन्होंने बताया कि इसी महीने उन्हें World Intellectual Property Organization, Geneva से patent भी मिली है . ये हमारी सरकार का सौभाग्य है कि वेंकट रेड्डी जी को पिछले साल पद्मश्री से भी सम्मानित किया था।

पीएम मोदी ने बताया कि हैदराबाद के चिंतला वेंकट रेड्डी जी, जिन्होंने, गेहूं , चावल की ऐसी प्रजातियों को विकसित की जो खासतौर पर ‘विटामिन-डी’ से युक्त हैं. प्रधानमंत्री ने बताया कि लद्दाख के उरगेन फुत्सौग जी इतनी ऊंचाई पर ऑर्गेनिक तरीके से खेती करके करीब 20 फसलें उगा रहे हैं वो भी साइक्लिक तरीके से, यानी वो, एक फसल के वेस्ट को, दूसरी फसल में, खाद के तौर पर, इस्तेमाल कर लेते हैं।