सोशल मीडिया पर राष्ट्रविरोधी व् असामाजिक पोस्ट करना बन सकता है भविष्य के लिए खतरा: DGP उत्तराखंड ने दी चेतावनी

आज के दौर में सोशल मीडिया जिंदगी का एक अहम हिस्सा बन चुका है, कोई सोशल मीडिया का सदुपयोग कर रहा है, तो कोई सोशल मीडिया का दुरूपयोग कर रहा है, अब सोशल मीडिया पर राष्ट्र विरोधी व् असामाजिक पोस्ट करना भविष्य के लिए खतरनाक बन सकता है, जी हाँ! इसलिए सोशल मीडिया पर कोई भी पोस्ट करने से पहले अच्छे से सोंच-समझ लें.

उत्तराखंड के पुलिस महानिदेशक ( डीजीपी ) अशोक कुमार ने देहरादून में कहा, सोशल मीडिया पर राष्ट्र विरोधी एवं असामाजिक पोस्ट करने वाले व्यक्तियों का रिकार्ड रखा जाएगा और भविष्य में उनके द्वारा पासपोर्ट एवं आर्म्स लाइसेंस के अनुरोध करने पर सत्यापन कार्यवाही में इसका उल्लेख भी किया जाएगा। डीजीपी ने कहा कि ड्रग्स माफियाओं एवं साइबर क्राइम के अपराधियों के विरूद्ध गैंगस्टर के अन्तर्गत कार्रवाई एवं उनकी अवैध रूप से सम्पत्ति को जब्त किया जाएगा।

आपको बता दें कि सोशल मीडिया एक अपरंपरागत मीडिया है। यह एक वर्चुअल वर्ल्ड बनाता है जिसे इंटरनेट के माध्यम से पहुंच बना सकते हैं। सोशल मीडिया एक विशाल नेटवर्क है, जो कि सारे संसार को जोड़े रखता है। यह संचार का एक बहुत अच्छा माध्यम है। यह द्रुत गति से सूचनाओं के आदान-प्रदान करने, जिसमें हर क्षेत्र की खबरें होती हैं, को समाहित किए होता है।

सोशल मीडिया इंटरनेट के माध्यम से एक वर्चुअल वर्ल्ड बनाता है जिसे उपयोग करने वाला व्यक्ति सोशल मीडिया के किसी प्लेटफॉर्म (फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम) आदि का उपयोग कर पहुंच बना सकता है।

loading...