7 बार के लोकसभा सांसद मोहन डेलकर की रहस्यमयी मौत, मुंबई के होटल में मिला शव

दो संतों के बीच में लाल कपडे वाले मोहन डेलकर हैं

दादरा और नगर हवेली से लोकसभा सदस्‍य मोहन डेलकर की रहस्यमयी परिस्थितयों में मौत हो गई, आज मुंबई के एक होटल में मृत पाए गए। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि 58 वर्षीय डेलकर दक्षिण मुंबई में मरीन ड्राइव होटल में मृत पाए गए। उनके शरीर को पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। उनकी मृत्‍यु के कारणों की जांच की जा रही है। मोहन डेलकर सत्रहवीं लोकसभा के सदस्‍य थे। वे सात बार लोकसभा के लिए चुने गए। जानकारी के अनुसार, मोहन डेलकर गृह मंत्रालय से संबंधित सलाहकार समिति तथा कार्मिक, लोक शिकायत, कानून और न्‍याय मंत्रालयों की स्‍थाई समितियों के सदस्‍य भी थे।

58 वर्षीय मोहन डेलकर 1989 से दादरा और नगर हवेली लोक सभा क्षेत्र से सांसद हैं. उन्होंने वर्ष 2009 में कांग्रेस पार्टी ज्वॉइन कर ली थी. लेकिन वर्ष 2019 के लोक सभा चुनावों में उन्होंने पार्टी छोड़ दी और निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में उतरे और फिर से जीत गए. मोहन देलकर ने आदिवासियों के लिए 1985 में आदिवासी विकास संगठन शुरू किया। 1989 में वे दादरा और नगर हवेली निर्वाचन क्षेत्र से 9वीं लोकसभा के लिए एक स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में चुने गए।

loading...