लोकसभा में बोले फारुख अब्दुल्लाह, हम सबके हैं भगवान राम

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के मुखिया फारूक अब्दुल्लाह ने कल लोकसभा में बड़ा बयान दिया, अब्दुल्ला ने कहा कि भगवान राम हम सबके हैं और अगर अल्लाह और भगवान में फर्क किया गया तो देश टूट जाएगा। उन्होंने कहा, किसानों की बात सुनी जानी चाहिए। सरकार को इसका समाधान निकालना चाहिए।

लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा में भाग लेते हुए अब्दुल्ला ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्रियों और पहले के दिग्गज नेताओं पर उंगली उठाना लोकतंत्र के लिए ठीक परंपरा नहीं है। उन्होंने कहा कि आज जवाहर लाल नेहरू, सरदार पटेल, राजीव गांधी, इंदिरा गांधी के बारे में सवाल उठाए जाते हैं, ये भारतीय परंपरा नहीं है। जो चला गया उसकी इज्जत करिए।

श्रीनगर से लोकसभा सदस्य ने अगर आपने कोई गलती की तो हम आपको सही करेंगे और हम गलती करेंगे तो आप सही करेंगे। इसी तरह देश चलता है। अब्दुल्ला ने कहा कि आज हमें आप पाकिस्तानी कहते हैं, खालिस्तानी कहते हैं, चीनी कहते हैं। मुझे मरना यहां है, जीना यहां है। मैं किसी से नहीं डरता। मुझे सिर्फ ऊपर वाले को जवाब देना है।