JNU देशद्रोह केस: कन्हैया कुमार, उमर खालिद समेत 9 आरोपियों को समन जारी, मार्च से सुनवाई शुरू

दिल्ली की जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी ( जेएनयू ) में 2016 में हुई देशविरोधी नारेबाजी मामलें में कन्हैया कुमार, उमर खालिद समेत 9 आरोपियों के खिलाफ अदालत ने समन जारी किया है. इन सभी के खिलाफ साल 2016 के जेएनयू देशद्रोह मामले में अभियोजन स्वीकृति मिलने के एक साल बाद दिल्ली की एक अदालत ने सोमवार को आरोप पत्र का संज्ञान लिया और सभी आरोपियों को 15 मार्च को तलब किया है.

पुलिस ने अपने आरोप पत्र में दावा किया कि कन्हैया कुमार ने एक जुलूस का नेतृत्व किया और समर्थन किया. पुलिस का दावा है कि संसद हमले के दोषी अफजल गुरु को फांसी देने वाले दिन आयोजित किये गये एक कार्यक्रम के दौरान कुमार ने आरोपी अन्य लोगों के साथ 9 फरवरी, 2016 को जेएनयू परिसर में देश विरोधी नारे लगाए.

पटियाला हाउस कोर्ट ने कन्हैया कुमार, उमर खालिद, अनिर्बान भट्टाचार्य, अकीब हुसैन, मुजीब हुसैन गट्टू, मुनीब हुसैन गट्टू, उमर गुल, रईस रसूल, बसारत अली और खालिद बशीर भट्ट के खिलाफ आरोप पत्र का संज्ञान लिया. इस दौरान जज ने कहा, ‘अभियुक्तों के खिलाफ मुकदमा चलाने की मंजूरी गृह विभाग, GNCT (दिल्ली सरकार) द्वारा पहले ही दायर कर दी गई है. आरोप पत्र को गंभीरता से पढ़ने के बाद सभी आरोपी व्यक्तियों को तलब किया गया है. 25 मार्च 2021 से सुनवाई शुरू होगी।