गुजरात में साफ़ हुआ कांग्रेस का सूपड़ा तो कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने छोड़ा डिबेट, मजे ले रहे लोग

गुजरात नगर-निगम चुनाव की मतगणना जारी है, भाजपा ने सभी छह नगर निगमों अहमदाबाद, सूरत, वडोदरा, जामनगर, भावनगर और राजकोट में स्पष्ट बहुमत हासिल कर ली है, वहीँ कांग्रेस का सूपड़ा पूरी तरह से साफ़ हो चुका है, पार्टी की करारी हार की शर्मिंदगी अब प्रवक्ताओं को झेलनी पड़ रही है, यही वजह है कि कांग्रेस की तेजतर्रार प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने गुजरात में हुए चुनाव पर बात करने के लिए डिबेट में आने से इनकार कर दिया।

2019 में महराजगंज से लोकसभा चुनाव हार चुकी कांग्रेस की तेजतर्रार प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने खुद ट्वीट कर जानकारी दी कि वह शाम 6 बजे आजतक न्यूज़ चैनल पर अंजना ओम कश्यप के साथ डिबेट में शामिल होंगी, इस ट्वीट के लगभग 10 मिनट बाद सुप्रिया श्रीनेत ने ट्वीट कर कहा कि टॉपिक बदल दिया गया है, मैं शो में नहीं रहूंगी।

जानकारी के अनुसार, प्रवक्ताओं को टीवी डिबेट में जब बुलाया जाता है तभी बता दिया जाता है कि किस मुद्दे पर चर्चा होनी है, अचानक टॉपिक नहीं बदला जाता है, हालाँकि वो और बात है कि सुप्रिया श्रीनेत के पास कांग्रेस की हार को डिफेंड करने के लिए शब्द न बचे हों, इसलिए उन्होंने डिबेट में न शामिल होना ही उचित समझा।

आपको बता दें कि गुजरात की 6 महानगरपालिकाओं में 576 सीटों पर चुनाव हुआ था, राज्य के चुनाव आयोग के मुताबिक़, अभी तक 547 के नतीजे घोषित कर दिए गए हैं, जिसमें भाजपा ने 450 सीटों पर जीत हासिल कर ली है जबकि 26 सीटों पर बम्पर लीड है, यानि लगभग-लगभग यह भी भाजपा के ही खाते में आएगी। कांग्रेस के खाते में सिर्फ 58 सीटें गई हैं तो वहीँ आम आदमी पार्टी ने 27 सीटों पर जीत हासिल की है, असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM ने 4 सीटों पर जीत दर्ज की है जबकि 8 सीटें निर्दलीयों के खाते में गई हैं।