पुडुचेरी सरकार गिरने के बाद अब अपनी सरकार सुरक्षित करने में जुटे गहलोत, बोले- भाजपा किसी भी हद तक..?

पुडुचेरी की कांग्रेस सरकार गिरने के बाद अब राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपनी सरकार सुरक्षित करने में जुट गए हैं, गहलोत ने पुडुचेरी सरकार के गिरने का जिम्मेदार भाजपा को ठहराते हुए कहा कि BJP ने अनैतिक तरीके से कांग्रेस सरकार गिराकर दिखाया है कि वह सत्ता के लिए किसी भी हद तक जा सकती है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि भगवा पार्टी इन तौर तरीकों से लोकतंत्र को खत्म करना चाहती है.पुडुचेरी में जो कुछ हुआ वह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है. BJP ने अनैतिक तरीके से कांग्रेस सरकार गिराकर दिखाया है कि वह सत्ता के लिए किसी भी हद तक जा सकती है। पहले वहां उपराज्यपाल के माध्यम से सरकार चलाने में परेशानियां पैदा कीं और अब धनबल से सरकार गिरा दी।

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले राजस्थान की अशोक गहलोत सरकार पर भी संकट मंडराया था, लेकिन गिरते-गिरते बच गई थी, हालाँकि संकट के बादल अभी छंटे नहीं हैं,. सचिन पायलट भले ही पार्टी में हों लेकिन उनकी अनदेखी लगातार की जा रही है, इसलिए वो कभी भी बगावती तेवर अपना सकते हैं।

आपको बता दें कि कल पुड्डुचेरी की कांग्रेस सरकार अल्पमत में आ गई है यानि गिर गई , एक महीने में कांग्रेस के 4 विधायकों के इस्तीफे के बाद एलजी तमिलिसाई सौंदर्यराजन ने मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी को विधानसभा में बहुमत साबित करने को कहा था लेकिन वो बहुमत साबित करने में असफल रहे, इस तरीके से कांग्रेस सरकार का समय समाप्त हो गया और वी.नारायणसामी को सीएम पद से इस्तीफा देना पड़ा. सीएम की कुर्सी छिनने के बाद नारायणसामी ने कहा कि लोकतंत्र की ह्त्या हुई है.

इस्तीफा देने के बाद कांग्रेस नेता वी.नारायणसामी ने कहा, 3 नामित सदस्यों को विश्वास प्रस्ताव में कहीं भी मतदान का अधिकार नहीं है, मेरी स्पीच खत्म होने के बाद सरकार के व्हिप ने इस मुद्दे को उठाया लेकिन अध्यक्ष इससे सहमत नहीं हुए। ये लोकतंत्र की हत्या है, ऐसा देश में कहीं नहीं होता। पुडुचेरी के लोग इन्हें सबक सिखाएंगे।