अखिलेश यादव ने भरे संसद में उड़ाया रामभक्तों और अयोध्या में बन रहे भव्य राममंदिर का मजाक

अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण शुरू हो चुका है, राम मंदिर के लिए देश के पांच लाख से ज्यादा गांवों में चंदा मांगा जाएगा। इस दौरान बारह करोड़ से ज्यादा परिवारों से मंदिर निर्माण के लिए चंदा मांगा जाएगा। अगले करीब डेढ़ महीने तक चंदा मांगा जाएगा। चंदा मांगने के लिए VHP के सदस्य काम करेंगे। समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने आज भरे संसद में न सिर्फ राम मंदिर के लिए चंदा मांगने वाले रामभक्तों का मजाक उड़ाया बल्कि अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर का मजाक उड़ाया।

अखिलेश यादव ने आज लोकसभा में ‘चंदा जीवी’ शब्द का प्रयोग किया, मालूम हो कि इन दिनों देश भर में राम मंदिर के लिए अनुदान संग्रह का काम जारी है। यानि अखिलेश यादव ने बिना नाम लिए राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा जुटाने वालों पर कटाक्ष किया। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने संसद में कहा, कानून किसानों के लिए है और जब किसान ये कानून नहीं चाहते तो इसे वापस क्यों नहीं लिया जा रहा है, इसके बाद अखिलेश यादव ने कहा, जो घर-घर जाकर चन्दा ले रहे हैं, क्या वे चंदाजीवी संगठन के लोग नहीं हैं।

आपको बता दें कि अबतक राम मंदिर निर्माण के लिए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद समेत देश के कई बड़े नेता चंदा दे चुके हैं, विश्व हिन्दू परिषद् के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार के मुताबिक, राम जन्मभूमि मंदिर न्यास को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की तरफ से मंदिर निर्माण के लिए पहला दान मिला। राष्ट्रपति ने 5,01,000 रुपए का दान दिया और इस मिशन की सफलता के लिए शुभकामनाएं दीं।

loading...