खंड-खंड हुआ गुपकार गैंग, सज्जाद लोन ने की बगावत

जम्मू कश्मीर में हुए जिला परिषद् चुनाव से पहले बने गुपकार गैंग में फूट पड़ गई है, सज्जाद लोन ने इस गैंग से बगावत कर ली है, पीएजीडी के प्रवक्ता सज्जाद लोन ने मंगलवार को एक पत्र लिखकर गुपकार गैंग से अलग होने का ऐलान किया। उन्होंने कहा कि डीडीसी चुनाव में गुपकार के उम्मीदवारों के खिलाफ ग्रुप के बाकी दलों ने अपने उम्मीदवारों को खड़ा कर दिया था। इससे उनकी पार्टी के उम्मीदवारों को हार का सामना करना पड़ा, इसलिए वह ग्रुप से नाता तोड़ रहे हैं।

डीडीसी चुनावों में मिली करारी हार के बाद अब महबूबा मुफ्ती भी गुपकर गैंग से अलग होती दिखाई दे रही हैं, चुनाव के वाह किसी बैठक में शामिल नहीं हुई, वहीं, सज्जाद लोन भी कश्मीर के एक बड़े नेता हैं, जो मुफ्ती मोहम्मद सईद तथा पीएम नरेन्द्र मोदी के खास माने जाते हैं। साल 2014 के विधानसभा चुनाव में उन्होंने हंदवाड़ा सीट से चुनाव लड़ा था।

सज्जाद लोन पहले अलगावादी नेता थे। उन्होंने बाद में पार्टी का गठन किया गया था। उनके पिता अब्दुल गनी लोन की साल 2002 में आतंकियों ने श्रीनगर में गोली मारकर हत्या कर दी थी। आपको बता दें कि गुपकर गैंग के मुखिया फारूक अब्दुल्ला हैं. जो अक्सर चीन की मदद से जम्मू कश्मीर में फिर से धारा 370 लागू करने का राग अलापते रहते हैं.

loading...