अगर कृषि कानून वापस नहीं होगा तो मई 2024 तक चलेगा आंदोलन: राकेश टिकैत

कृषि कानून के विरोध में हजारों किसान पिछले लगभग 2 महीनें से दिल्ली बॉर्डर पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं, अभीतक सरकार और किसानों के बीच नौ दौर की बातचीत हो चुकी है लेकिन कोई हल नहीं निकल सका है, किसान यूनियन (भाकियू) नेता राकेश टिकैत ने रविवार को कहा कि किसान केंद्र के नए कृषि कानूनों के खिलाफ ‘मई 2024’ (लोकसभा चुनाव) तक प्रदर्शन करने के लिए तैयार हैं। नागपुर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए टिकैत ने कहा कि वे न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर कानूनी गारंटी चाहते हैं।

आपको बता दें कि कृषि कानूनों के खिलाफ किसान 26 नवंबर, 2020 से दिल्ली की सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे हैं। उनकी मांग है कि तीनों नए कानूनों को वापस लिया जाए जिन्हें केंद्र ने कृषि क्षेत्र में बड़ा सुधार बताया है। किसानों ने आशंका जताई है कि नए कानून एमएसपी के सुरक्षा घेरे को समाप्त करने और मंडी प्रणाली को बंद करने का रास्ता साफ करेंगे। सुप्रीम कोर्ट ने बीते मंगलवार को नए कृषि कानूनों को लागू करने पर अगले आदेश तक रोक लगा दी है।

राकेश टिकैत ने कहा कि हमारी मांग है कि तीनों कानूनों को वापस लिया जाए और सरकार एमएसपी को कानूनी गारंटी प्रदान करे। दरअसल देश में अगले लोकसभा चुनाव अप्रैल-मई 2024 के आसपास ही होने की संभावना है।

loading...