राहुल गांधी के सेना वाले इस बेतुके बयान पर भड़के सैन्य अधिकारी, कहा- तुरंत माफ़ी मांगे राहुल

राहुल गांधी भारतीय सेना को लेकर उल-जुलूल बयान अक्सर देते रहते हैं, इसी कड़ी में राहुल गांधी ने तमिलनाडु में कहा, एलएसी पर सेना की कोई आवश्यकता नहीं, राहुल गाँधी के इस बयान पर सैन्य अधिकारी खफा हो गए हैं और माफ़ी की मांग कर रहे हैं…सैन्य अधिकारियों ने कहा कि ‘सशस्त्र बलों पर बयान देने से वर्दीधारी अधिकारियों का मनोबल गिरता है और ये सशस्त्र बलों के लिए अपमानजनक है.

सैन्य अधिकारीयों द्वारा जारी बयान में लिखा गया है, राहुल गांधी द्वारा दिए गए बयान से हम स्तब्ध और गहरे आहत हैं। हमारे पास भारतीय किसानों, श्रमिकों और मजदूरों के लिए सबसे अधिक सम्मान है। भारतीय सशस्त्र बलों की अतिरेक के बारे में बयान को नजरअंदाज कर लिया जाता, जो नादान और सच्चाई से बहुत दूर है, बिलकुल 1962 में चीन के खिलाफ हमें असफल करने वाले काल्पनिक नेहरूवादी स्वप्न की तरह। लेकिन हमारे देश की भावी पीढ़ियों पर इसके भ्रामक प्रभाव को देखते हुए, हमने चीजों को सही परिप्रेक्ष्य में रखने का फैसला किया है।

आगे लिखा है, भारतीय सेना, नौसेना और वायु सेना को अनावश्यक कहने जैसे निंदनीय बयान देना, न केवल गंभीरता से हमारे वर्दीधारियों का मनोबल गिराते हैं, बल्कि राष्ट्र के सशस्त्र बलों के लिए अपमानजनक है, जिन्होंने राष्ट्र की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता की रक्षा के लिए सर्वोच्च बलिदान करने में कभी संकोच नहीं किया है।

loading...