पीएम मोदी बने ‘सोमनाथ मंदिर ट्रस्ट’ के अध्यक्ष

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सोमनाथ मंदिर ट्रस्ट का नया अध्यक्ष बनाया गया है। गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल के निधन के बाद से यह पद खाली था। केशुभाई पटेल के निधन के बाद पहली बार मंदिर ट्रस्ट के सदस्यों के बीच वर्चुअल मीटिंग हुई। इस वर्चुअल मीटिंग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सर्वसम्मति से ट्रस्ट का अध्यक्ष चुना गया।

नरेंद्र मोदी के अलावा इस ट्रस्ट में अमित शाह समेत छह अन्य लोग भी शामिल हैं।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के अलावा कुल 6 लोग सोमनाथ मंदिर ट्रस्ट के सदस्य हैं। ट्रस्ट की पहली बैठक अक्टूबर 1949 में हुई थी और तब जाम साहब दिग्विजय सिंह को अध्यक्ष चुना गया था।

श्री सोमनाथ ट्रस्‍ट (SST) एक धार्मिक चैरिटबल ट्रस्‍ट है। यह गुजरात पब्‍ल‍िक ट्रस्‍ट एक्‍ट 1950 के तहत रजिस्‍टर्ड है। इस ट्रस्‍ट के पास ही सोमनाथ मंदिर, 64 अन्‍य मंदिर, इसके गेस्‍टहाउस और इसके मालिकाना हक में आने वाली 2000 एकड़ जमीन का ध्‍यान और रखरखाव रखने का अधिकार है।

श्री सोमनाथ ट्रस्‍ट पर उच्‍च पद पर बैठे लोगों का दबदबा रहा है। सरदार वल्‍लभ भाई पटेल ने कभी इस मंदिर के पुनर्निर्माण की कसम खाई थी। देश के प्रथम राष्‍ट्रपति राजेंद्र प्रसाद ने मंदिर का उद्घाटन किया था। 2010 में पीएम मोदी इस ट्रस्ट के सदस्य बने थे और अब अध्यक्ष बन गए हैं।