कोविड-19 के टीके का साइड इफेक्ट हुआ तो कंपनी देगी मुआवज़ा, भारत बायोटेक ने किया एलान!

देशभर में टीकाकरण की शुरुवात शनिवार ( 16 जनवरी, 2021 ) से हो गई, हालाँकि भारत बायोटेक द्वारा निर्मित स्वदेशी वैक्सीन को लेकर लोगों में थोड़ा आशंकाएं थी, अब भारत बायोटेक ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा है कि अगर वैक्सीन का कोई साइड इफेक्ट होगा तो कम्पनी मुवावजा देगी, हालाँकि बायोटेक ने यह भी भरोसा दिलाया है कि साइड इफेक्ट के चांस लगभग न के बराबर हैं।

बता दे कि भारत सरकार ने भारत बायोटेक से कोरोना वैक्सीन की 55 लाख डोज खरीदने का फैसला किया है। कंपनी का कहना है कि वैक्सीन दिए जाने वाले शख्स को एक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर करना होगा। किसी अनहोनी की स्थिति में कंपनी की तरफ से मुआवजा दिया जाएगा। कोवैक्सीन के लगाए जाने पर किसी लाभार्थी को कोई स्वास्थ्य समस्या होती है तो सरकारी अस्पताल में देखरेख की सुविधा मुहैया कराई जाएगी।

गौरतलब है कि दिल्ली में 81 केंद्रों पर स्वास्थ्यकर्मियों और अग्रिम पंक्ति के कर्मचारियों को वैक्सीन की खुराक देने का अभियान शुरू हुआ। इनमें से 75 केंद्रों पर ऑक्सफोर्ड की कोविशील्ड और बाकी छह केंद्रों पर भारत बायोटेक की कोवैक्सीन की खुराक दी जा रही है। एम्स के डॉयरेक्टर डॉ रणदीप गुलेरिया और निति आयोग के सदस्य डॉ वीके पॉल भी वैक्सीन लगवा चुके हैं।

loading...